NDTV Khabar

भारत के साथ डिफेंस सहयोग बढ़ाएगा अमेरिका, 621.5 अरब डॉलर का रक्षा व्यय विधेयक पारित

भारतीय अमेरिकी सांसद अमी बेरा द्वारा इस संबंध में पेश किए गए संशोधन को सदन ने ‘नेशनल डिफेंस ऑथोराइजेशन एक्ट (एनडीएए) 2018 के भाग के रूप में ध्वनिमत से पारित किया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
भारत के साथ डिफेंस सहयोग बढ़ाएगा अमेरिका, 621.5 अरब डॉलर का रक्षा व्यय विधेयक पारित

अमेरिका से भारत लाई गई अल्ट्रा लाइट होवित्जर

खास बातें

  1. अमेरिका और भारत पिछले काफी समय से प्रयासरत हैं.
  2. 621.5 अरब डॉलर का रक्षा व्यय विधेयक पारित
  3. भारत के साथ रक्षा सहयोग बढ़ाए जाने का प्रस्ताव रखा गया है.
वाशिंगटन: आतंकवाद और दक्षिण एशिया में शक्ति संतुलन बनाए रखने के लिए अमेरिका और भारत पिछले काफी समय से प्रयासरत हैं. अब इस कड़ी में माना जा रहा है कि अमेरिका कुछ कदम और उठाएगा. अमेरिका की प्रतिनिधि सभा ने 621.5 अरब डॉलर का रक्षा व्यय विधेयक पारित किया है जिसमें भारत के साथ रक्षा सहयोग बढ़ाए जाने का प्रस्ताव रखा गया है. 

भारतीय अमेरिकी सांसद अमी बेरा द्वारा इस संबंध में पेश किए गए संशोधन को सदन ने ‘नेशनल डिफेंस ऑथोराइजेशन एक्ट (एनडीएए) 2018 के भाग के रूप में ध्वनिमत से पारित किया. यह कानून इस साल एक अक्तूबर से लागू होगा. एनडीएए-2018 को सदन ने 81 के मुकाबले 344 मतों से पारित किया था.

सदन द्वारा पारित भारत संबंधी संशोधन में कहा गया है कि विदेश मंत्री के साथ सलाह मशविरा करके रक्षा मंत्री अमेरिका एवं भारत के बीच रक्षा सहयोग बढ़ाने की रणनीति बनाएंगे.

बेरा ने कहा, ‘‘अमेरिका दुनिया की सबसे पुरानी और भारत सबसे बड़ी लोकतांत्रिक व्यवस्था है. यह बहुत महत्वपूर्ण है कि दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग बढ़ाने के लिए रणनीति विकसित की जाए.’’ उन्होंने कहा, ‘‘मैं आभारी हूं कि इस संशोधन को पारित किया गया. मैं साझा सुरक्षा चुनौतियों, सहयोगियों की भूमिका और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में सहयोग जैसे अहम मामलों संबंधी रक्षा मंत्रालय की रणनीति का इंतजार कर रहा हूं.’’ 

 
ये भी पढ़ें
चीन से लगी सीमा पर तैनाती के लिये अमेरिका से तोप खरीदेगा भारत
रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका से 145 ‘अल्ट्रा लाइट होवित्जर’ की खरीद को मंजूरी दी
भारत और अमेरिका ने की सैन्य परियोजनाओं की समीक्षा, एम 777 पर जल्द होंगे हस्ताक्षर
भारत ने 145 M-777 होवित्जर तोपों के लिए अमेरिका के साथ 5000 करोड़ रुपये का सौदा किया
भारत पहुंची 2 होवित्जर तोपें, भारत-चीन सीमा पर की जा सकती हैं तैनात
भारत की ताकत बढ़ी, पढ़ें- अल्ट्रा लाइट 145 M-777 तोपों की 5 बड़ी खासियतें

बेरा ने कहा, ‘‘अमेरिका एवं भारत के बीच सहयोग से हमारी अपनी सुरक्षा एवं 21वीं सदी में सुरक्षा चुनौतियों का सामना करने की हमारी क्षमता भी बढ़ेगी.’’




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement