Khabar logo, NDTV Khabar, NDTV India

उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम के परीक्षण के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया

ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर कोरिया के हाइड्रोजन बम के परीक्षण के खिलाफ खड़े हुए अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया
वाशिंगटन: अमेरिका, जापान और दक्षिण कोरिया ने हाइड्रोजन बम के सफल परीक्षण के उत्तर कोरिया के दावे को लेकर एक एकीकृत और कड़ी अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया की तरफ बढ़ने का फैसला किया है।

अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने उत्तर कोरिया के परीक्षण के बाद क्षेत्र में सुरक्षा की स्थिति को लेकर दक्षिण कोरिया की राष्ट्रपति पार्क ग्वेन ये और जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे से फोन पर अलग अलग बातचीत की।

(जानिए, क्यों एटम बम के मुकाबले कहीं ज़्यादा खतरनाक होता है हाइड्रोजन बम...)

व्हाइट हाउस ने कहा, 'तीनों नेताओं ने उत्तर कोरिया के नवीनतम लापरवाह आचरण के जवाब में एक एकीकृत और मजबूत अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया की तरफ बढ़ने की अपनी प्रतिबद्धता दोहराई।' शिंजो से ओबामा के बात करने के बाद व्हाइट हाउस ने कहा, 'ओबामा ने जापान की सुरक्षा को लेकर अमेरिका की अटूट प्रतिबद्धता की पुष्टि की और दोनों नेता उत्तर कोरिया के नवीनतम लापरवाह आचरण के जवाब में एक एकीकृत और मजबूत अंतरराष्ट्रीय प्रतिक्रिया की तरफ बढ़ने के लिए साथ काम करने पर सहमत हुए।' ओबामा और पार्क के बीच हुई बातचीत में दोनों नेताओं ने परीक्षण की निंदा की और इस बात पर सहमत हुए कि उत्तर कोरिया की कार्रवाई संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के कई प्रस्तावों सहित अंतरराष्ट्रीय कानून के तहत उसके दायित्वों एवं प्रतिबद्धताओं का एक और उल्लंघन है।

(पढ़ें- किम जोंग के बर्थडे से 2 दिन पहले उत्तर कोरिया ने किया हाइड्रोजन बम का परीक्षण)

अमेरिकी विदेश मंत्री जॉन केरी ने भी परीक्षण को लेकर दोनों देशों के अपने समकक्षों से बातचीत की।

(ये भी पढ़ें- परमाणु परीक्षण पर UNSC ने की उत्तर कोरिया की निंदा)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement