चीन से मदद नहीं मिलने पर अमेरिका अकेले ही उत्तर कोरिया पर कार्रवाई करेगा : डोनाल्ड ट्रंप

चीन से मदद नहीं मिलने पर अमेरिका अकेले ही उत्तर कोरिया पर कार्रवाई करेगा : डोनाल्ड ट्रंप

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

खास बातें

  • अगर चीन उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ कड़ा कदम नहीं उठाता
  • अमेरिका अकेले ही कार्रवाई करने के तैयार है
  • ट्रंप ने फाइनेंशियल टाइम्स के साथ एक साक्षात्कार में यह टिप्पणी की
पोटोमैक फॉल्स (अमेरिका):

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि अगर चीन उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम के खिलाफ कड़ा कदम नहीं उठाता है तब अमेरिका अकेले ही कार्रवाई करने के तैयार है. साउथ फ्लोरिडा में अपने मार-ए-लेगो एस्टेट में चीनी राष्ट्रपति शी चिनपिंग की मेजबानी करने के कुछ ही दिन पहले ट्रंप ने फाइनेंशियल टाइम्स के साथ एक साक्षात्कार में यह टिप्पणी की है. बृहस्पतिवार और शुक्रवार को होने वाली बैठक के दौरान शी और ट्रंप के बीच उत्तर कोरिया, व्यापार और दक्षिण चीन सागर में क्षेत्रीय विवाद समेत कई सारे मुद्दों पर चर्चा होने की संभावना है.

ट्रंप ने अखबार से कहा, ‘‘हां, हम उत्तर कोरिया के बारे में बात करेंगे.’’ उन्होंने कहा, ‘‘उत्तर कोरिया पर चीन का बहुत प्रभाव है और या तो चीन उत्तर कोरिया को लेकर हमारी मदद करने का फैसला करेगा या नहीं करेगा. अगर चीन हमारी मदद करने का फैसला करता है तो यह उसके लिए बहुत अच्छा होगा और अगर वह ऐसा नहीं करता है तो यह किसी के लिए अच्छा नहीं होगा.’’ ट्रंप ने कहा कि चीन के लिए अमेरिका के साथ काम करने की वजह व्यापार है.

उन्होंने कहा कि चीन की मदद के बिना अमेरिका, उत्तर कोरिया में हालात से निपट सकता है. जब उनसे पूछा गया कि वह उत्तर कोरिया से कैसे निपटेंगे तब ट्रंप ने कहा, ‘‘मैं यह आपको बताने नहीं जा रहा हूं आप जानते हैं, मैं अतीत का अमेरिका नहीं हूं जहां हम आपको यह बताएंगे कि हम पश्चिम एशिया में कहां पर क्या करने जा रहे हैं.’’

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com