NDTV Khabar

डोकलाम में भारत-चीन गतिरोध को लेकर अमेरिका ने जताई चिंता

नौअर्ट ने कहा, हमारा मानना है कि दोनों ही पक्षों को साथ काम करके शांति व्यवस्था बहाल करने के लिए कुछ बेहतर रास्ते निकालने की कोशिश करनी चाहिए.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डोकलाम में भारत-चीन गतिरोध को लेकर अमेरिका ने जताई चिंता

भारत-चीन के बीच डोकलाम में गतिरोध पर अमेरिका चिंतित

खास बातें

  1. शांति व्यवस्था के लिए रास्ते निकालने की कोशिश करें
  2. एक महीने से ज्यादा समय से गतिरोध
  3. गतिरोध पर दोनों देश साथ काम करें
वाशिंगटन: सिक्किम सेक्टर स्थित भारत-चीन सीमा पर चल रहे गतिरोध को लेकर अमेरिका ने चिंता जताते हुए कहा है कि दोनों देशों को साथ काम करके शांति व्यवस्था के लिए रास्ते निकालने की कोशिश करनी चाहिए. विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीदर नौअर्ट ने अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में संवाददाताओं से कहा, मैं जानती हूं कि अमेरिका मौजूदा स्थिति को देखते हुए चिंतित है. वह भारत और चीन के बीच सिक्किम सेक्टर में एक महीने से ज्यादा समय से फैले गतिरोध से जुड़े सवालों का जवाब दे रही थीं.

यह भी पढ़ें
चीन को चित करने के लिए भारत का 'प्लान 73', कहीं ये तो नहीं है ड्रैगन के घबराहट की वजह?
चीन के भीतर उठी आवाज, 'भारतीय सैनिकों को तुरंत खदेड़ा जाना चाहिए' : चीनी मीडिया 

नौअर्ट ने कहा, हमारा मानना है कि दोनों ही पक्षों को साथ काम करके शांति व्यवस्था बहाल करने के लिए कुछ बेहतर रास्ते निकालने की कोशिश करनी चाहिए. चीन और भारत के बीच सिक्किम सेक्टर के डोकलाम में गतिरोध चल रहा है. यहां भारतीय सैनिकों ने चीनी सैनिकों द्वारा किए जा रहे सड़क निर्माण को 16 जून को रोक दिया था. दोका ला इस क्षेत्र का भारतीय नाम है. भूटान इस क्षेत्र को डोकलाम के रूप में पहचान देता है. वहीं, इसे चीन दोंगलांग क्षेत्र का हिस्सा बताता है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement