NDTV Khabar

उत्तर कोरिया से रिहा हुए अमेरिकी छात्र की मौत, डोनाल्ड ट्रंप ने साधा निशाना

उत्तर कोरिया की जेल से 18 महीने पहले रिहा हुए अमेरिकी छात्र ओटो वार्मबेयर की मौत हो गई है. नॉर्थ कोरिया में उसकी हालत में सुधार नहीं हो रहा था. पिछले सप्ताह ही उसे घर लाया गया था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उत्तर कोरिया से रिहा हुए अमेरिकी छात्र की मौत, डोनाल्ड ट्रंप ने साधा निशाना

डोनाल्ड ट्रंप ने साधा उत्तर कोरिया पर निशाना

खास बातें

  1. ट्रंप ने साधा उत्तर कोरिया पर निशाना
  2. पिछले साल मार्च में उत्तर कोरिया में हुई थी गिरफ्तारी
  3. माता-पिता का आरोप- बेटे को यातनाएं दी गईं
शिकागो: उत्तर कोरिया की जेल से 18 महीने पहले रिहा हुए अमेरिकी छात्र ओटो वार्मबेयर की मौत हो गई है. नॉर्थ कोरिया में उनकी हालत में सुधार नहीं हो रहा था. पिछले सप्ताह ही उन्हें घर लाया गया था. इस 22 वर्षीय छात्र को गंभीर दिमागी चोट लगी थी. इसके छह दिनों बाद ओहायो के सिनसिनाटी में उसका निधन हो गया. आखिरी समय परिवार के लोग और नजदीकी रिश्तेदार उनके पास थे.

परिवार ने एक बयान में कहा,  उत्तर कोरिया के हाथों हमारे बेटे को जिस तरह से यातना दी गई उससे स्पष्ट था कि यही होने वाला है. यह अमेरिकी नौजवान वहां पर्यटक के तौर पर गया था और उसे गिरफ्तार कर लिया गया. पिछले साल मार्च में उसे उत्तर कोरिया के एक होटल का राजनीतिक पोस्टर चुराने के आरोप में 15 साल जेल की सजा सुनाई गई थी. बाद में उनको रिहा किया गया था, जिसके बाद उनको अमेरिका वापस लाया गया था. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने युवक की मौत को लेकर उत्तर कोरिया पर निशाना साधा.

ट्रंप ने कहा, यह (उत्तर कोरिया) बर्बर शासन है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने युवक की मौत पर दुख प्रकट करते हुए कहा, खराब चीजें हुई थीं, लेकिन अच्छी बात थी कि वह अपने माता-पिता के पास लौट आए थे. उन्होंने कहा, इस पीड़ित को लेकर शोकाकुल होने के साथ अमेरिका एक बार फिर उत्तर कोरियाई शासन की बर्बरता की निंदा करता है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...
 Share

Advertisement

 
 

Advertisement