NDTV Khabar

अमेरिकी महिला सांसदों का प्रदर्शन, 'हमें स्लीवलेस कपड़े पहनने से न रोका जाए'

कांग्रेस सदस्य चिली पिन्ग्री ने ट्वीट किया, 'यह 2017 है और महिलाएं वोट डाल रही हैं, कार्यालय चला रहीं हैं और अपने तरीके से रह रहीं हैं. सदन के नियम बदलने का वक्त आ गया है. '

565 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
अमेरिकी महिला सांसदों का प्रदर्शन, 'हमें स्लीवलेस कपड़े पहनने से न रोका जाए'

खास बातें

  1. स्लीवलेस कपड़े पहनने पर रोक के खिलाफ अमेरिकी महिला सांसद
  2. विरोध में 30 महिला सांसदों ने किया विरोध प्रदर्शन
  3. कांग्रेस सदस्य चिली पिन्ग्री ने कहा नियम में बदलाव जरूरी
वाशिंगटन: अमेरिका में कम से कम 30 महिला सांसदों ने बिना बाजू वाले कपड़े पहन कर 'खुले बाजू के अधिकार' (स्लीवलेस कपड़े) के लिए प्रदर्शन किया. सांसदों ने हाउस चेंबर की सीमा से सटी स्पीकर की लॉबी में शुक्रवार को प्रदर्शन किया . यह वह स्थान है जहां रिपोर्टर साक्षात्कार लेते हैं. सीएनएन ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि यहां महिला रिपोर्टरों और सांसदों को ढकी बाजू वाले कपडे पहन कर आना अनिवार्य है . पुरुषों के लिए जैकेट और टाई पहनना अनिवार्य है.
 
कांग्रेस सदस्य चिली पिन्ग्री (chellie pingree) ने ट्वीट किया, 'यह 2017 है और महिलाएं वोट डाल रही हैं, कार्यालय चला रहीं हैं और अपने तरीके से रह रहीं हैं. सदन के नियम बदलने का वक्त आ गया है. '  कैलिफोर्निया में डेमोक्रेटिक पार्टी की सांसद लिंडा सांचेज ने कुछ वर्षो पूर्व तक महिला शौचालय नहीं होने का जिक्र करते हुए कहा, 'ये नियम पुरातन काल के हैं---अगर हम परंपरा का पालन करते तो इस फ्लोर में महिला शौचालय नहीं होता. ' 

हाल ही में सीबीएस न्यूज रिपोर्ट में एक युवा महिला पत्रकार के बिना बाजू के कपड़े पहनने के कारण उसे कमरे में नहीं जाने देने की रिपोर्ट ने खूब सुर्खी बटोरी थी और साथ ही एक नई बहस को जन्म दिया था. बुधवार को रिपब्लिकन सांसद मार्था मैकसेली ने कहा था, 'इससे पहले कि मैं वापस जाऊं मैं कहना चाहती हूं कि मैं यहां अपने प्रोफेशनल ड्रेस में हूं जो कि बिना बाजू की है और शूज आगे से खुले हुए हैं.  इसके साथ ही स्पीकर महोदय मैं वापस जाती हूं.' मैकसेली की इस टिप्पणी ने ही प्रदर्शन की शुरुआत की.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement