चुनाव में रिकॉर्ड जीत के साथ ही चौथी बार रूस के राष्ट्रपति बने व्लादिमिर पुतिन

एग्जिट पोल में पुतिन को अन्य उम्मीदवारों की तुलना में कुल 73.9 फीसदी वोट दिए गए थे. इसके बाद से पुतिन के एक बार फिर राष्ट्रपति बनने की चर्चाएं तेज हो गई थीं. 

चुनाव में रिकॉर्ड जीत के साथ ही चौथी बार रूस के राष्ट्रपति बने व्लादिमिर पुतिन

व्लादिमिर पुतिन की फाइल फोटो

खास बातें

  • 2024 तक अपनी सेवाएं जारी रखेंगे पुतिन
  • वर्ष 2000 से लगातार रूस के राष्ट्रपति हैं पुतिन
  • पुतिन को एग्जिट पोल में भी मिला था सबसे ज्यादा वोट
नई दिल्ली:

रूस के राष्ट्रपित व्लादिमिर पुतिन ने रिकॉर्ड मतों के अंतर से एक बार फिर आम चुनाव में जीत दर्ज की है. इस जीत के साथ ही वह लगातार चौथी बार देश के राष्ट्रपति बनने जा रहे हैं. जीत के बाद वह अगले छह वर्षों तक बतौर राष्ट्रपति अपनी सेवाएं दे पाएंगे. पुतिन ने इस जीत बाद देशवासियों के जीवनस्तर में सुधार लाने और देश की रक्षा प्रणाली को और मजबूत बनाने का दावा किया है. पुतिन अब 2024 तक देश के राष्ट्रपति के तौर पर अपनी सेवाएं जारी रखेंगे.

यह भी पढ़ें: मैंने कभी संविधान को नहीं बदला : रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन

गौरतलब है कि चुनाव परिणाम आने से पहले एग्जिट पोल मे भी पुतिन को अन्य उम्मीदवारों से काफी आगे बताया जा रहा था. एग्जिट पोल में पुतिन को अन्य उम्मीदवारों की तुलना में कुल 73.9 फीसदी वोट दिए गए थे. इसके बाद से पुतिन के एक बार फिर राष्ट्रपति बनने की चर्चाएं तेज हो गई थीं. रूस के करीब 1200 मतदान केंद्रों से आंकड़ों को जुटाकर किए गए इस एग्जिट पोल में कम्यूनिस्ट उम्मीदवार पावेल ग्रुडिनिन को 11.2 फीसदी वोटों के साथ दूसरे स्थान पर दिखाया गया था. आखिरकार इस बात की औपचारिक घोषणा रविवार को कर दी गई। रूस की सेंट्रल इलेक्शन कमिशन ने चुनाव में आंशिक रूप से कुछ गड़बड़ियां होने की बात कही लेकिन कुल मिलाकर कमिशन ने इस चुनाव को समान्य प्रक्रिया के तहत हुआ चुनाव ही माना.

यह भी पढ़ें: अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में नहीं की है कोई दखलंदाजी : व्लादिमीर पुतिन

पुतिन समर्थक पुतिन की इस जीत के लिए उनकी पश्चिमी देशों के प्रति उनके रुख और फैसले को जिम्मेदार मानते हैं. चुनाव परिणाम आने के बाद एक सांसद ने कहा कि चुनाव परिणाम आने के बाद अब यूनाइटेड स्टेट्स और ब्रिटेन भी इस बात को अच्छी तरह से समझ चुके होंगे कि वह किसी तरह भी तरह से हमारे देश में होने वाले चुनाव को प्रभावित नहीं कर सकते हैं.

Newsbeep

VIDEO: ब्रिक्स में मिले बड़े नेता.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि हमारे लिए यह एक बड़ी जीत है. इस जीत के बाद राष्ट्रपति पुतिन देश के विकास और सुरक्षा के लिए बड़े फैसले ले पाएंगे जिसका फायदा देशवासियों को ही होगा.