NDTV Khabar

जंगी जहाज को गिराने पर 'पछताएगा' तुर्की : रूस | IS के अवैध तेल बिजनेस में रूस शामिल : तुर्की

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जंगी जहाज को गिराने पर 'पछताएगा' तुर्की : रूस | IS के अवैध तेल बिजनेस में रूस शामिल : तुर्की

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन का फाइल फोटो...

मास्‍को:

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने निश्चय किया कि तुर्की के नेतृत्व को रूसी जंगी विमान को मार गिराए जाने को लेकर पछतावा कराया जाएगा, जबकि रूस ने एक बड़ी गैस पाइपलाइन परियोजना पर बातचीत रोकने की घोषणा की।

पुतिन ने नाटो के सदस्य तुर्की के साथ बढ़ते वाकयुद्ध में एक और प्रहार किया, जबकि तुर्की के उनके समकक्ष रेसिप तायिपो एरदोगन ने घोषणा की कि उनके पास इस बात का सबूत है कि रूस सीरिया में आतंकवादी संगठन इस्लामिक स्टेट (आईएस) के साथ अवैध तेल व्यापार में शामिल है। आईएस से मिलीभगत का एरदोगन का आरोप पुतिन द्वारा तुर्की और उसके नेता पर हाल के दिनों में लगाए गए आरोप के बाद आया है।

पिछले महीने एक रूसी जंगी विमान को तुर्की द्वारा मार गिराए जाने के बाद रूस के लिए तुर्की आंखों की किरकिरी बन गया है। इस घटना से नाराज रूस ने तुर्की पर आर्थिक प्रतिबंध लगाए हैं।


पुतिन ने अपने वार्षिक राष्ट्रीय संबोधन में सांसदों से कहा, 'हम आतंकवादियों के साथ इस संलिप्तता को नहीं भूलेंगे। हमने इस छल को सबसे घटिया हरकत समझा और हमेशा समझेंगे। हमारे पायलटों की पीठ पर तुर्की में जिन्होंने छुरा भोंका, वे यह जान लें।' रूस ने तुर्की नेता एरदोगन और उनके परिवार पर आईएस जिहादियों के साथ तेल व्यापार से लाभ कमाने का आरोप लगाया है। इस्लामिक स्टेट का तेल क्षेत्रों समेत सीरिया के एक विशाल क्षेत्र पर नियंत्रण हैं।

पुतिन ने कहा, 'उदाहरण के लिए हमें मालूम है कि तुर्की में कौन अपनी जेब भरता है और आतंकवादियों को सीरिया में चुराए गए तेल से पैसा बनाने देता है।' रूसी राष्ट्रपति ने कहा, 'यह भी पक्का है कि इसी धन से लुटेरे किराए के सैनिकों की भर्ती करते हैं, हथियार खरीदते हैं और हमारे नागरिकों, फ्रांस, लेबनान, माली और अन्य देशों के नागरिकों के खिलाफ अमानवीय आतंकवादी हरकतें करते हैं।'

वहीं, एरदोगन ने अपने और अपने ऊपर लगे आरोप का खंडन करते हुए कहा, 'हमारे हाथों में आईएस के साथ तेल के व्यापार में रूसियों के शामिल होने के बारे में सबूत हैं। हम इसे दुनिया के सामने उजागर करेंगे।' पुतिन प्रशासन पहले ही तुर्की के खिलाफ प्रतिबंधों की घोषणा कर चुका है। पुतिन ने कहा है कि तुर्की को अपनी हरकत पर पछतावा कराया जाएगा।

टिप्पणियां

पुतिन के भाषण के तुरंत बाद रूस के ऊर्जा मंत्री एलेंक्जेंडर नोवाक ने एक बड़ी तुर्कस्ट्रीम पाइपलाइन परियोजना पर अंकारा और मास्को के बीच वार्ता रोकने की घोषणा की। हालांकि, इसी बीच, बेलग्रेड से प्राप्त समाचार के अनुसार दोनों देशों के विदेश मंत्रियों ने बेलग्रेड में एक अंतरराष्ट्रीय कार्यक्रम के अलग भेंट की।

तुर्की विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने कहा, 'दोनों विदेश मंत्रियों के बीच निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार भेंटवार्ता शुरू हो गई।' आर्गनाइजेशन फोर सिक्‍योरिटी एंड कोऑपरेशन इन यूरोप की मंत्रीपरिषद की बैठक के अलग दोनों देशों के विदेश मंत्रियों की बैठक की पुष्टि बेलग्रेड में राजनयिक सूत्रों ने भी की। तुर्की और रूस के विदेश मंत्रियों के बीच यह बैठक रूसी जंगी विमान को मार गिराए जाने के बाद दोनों देशों के बीच पहली उच्च स्तरीय द्विपक्षीय बैठक है।



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement