NDTV Khabar

क्या उत्तर कोरिया के खिलाफ होगी सैन्य कार्रवाई? डोनाल्ड ट्रंप ने दिया यह जवाब

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि परमाणु हथियारों से लैस उत्तर कोरिया से निपटने के वास्ते सैन्य हमला उनके लिए पहला विकल्प नहीं है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्या उत्तर कोरिया के खिलाफ होगी सैन्य कार्रवाई? डोनाल्ड ट्रंप ने दिया यह जवाब

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप (फाइल फोटो)

वाशिंगटन/बीजिंग:

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने बुधवार को कहा कि परमाणु हथियारों से लैस उत्तर कोरिया से निपटने के वास्ते सैन्य हमला उनके लिए पहला विकल्प नहीं है. हालांकि उन्होंने इस विकल्प को पूरी तरह खारिज नहीं किया है. ट्रंप की यह टिप्पणी उनके चीनी समकक्ष शी चिनफिंग से टेलीफोन पर हुई बातचीन के दौरान आई. ट्रंप उत्तर कोरिया द्वारा छठा और अपना सबसे शक्तिशाली परमाणु परीक्षण किए जाने के बाद चिनफिंग से कोरियाई प्रायद्वीप के हालात पर चर्चा कर रहे थे.

यह भी पढ़ें:उत्तर कोरियाई शासक किम जोंग युद्ध के लिए बेकरार हैं : अमेरिका

ट्रंप की यह टिप्पणी पिछले महीने उत्तर कोरिया सरकार को दी गई चेतावनी की तुलना में कम तीखी थी. अमेरिका ने उत्तर कोरिया के मुख्य व्यापार भागीदार चीन से अनुरोध किया कि वह प्योंगयांग पर विवादित मिसाइल प्रोग्राम को रोकने के लिए दबाव बनाए. अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है कि उत्तर कोरिया को लेकर उनकी शी से मजबूत और खुलकर बातचीत हुई है.


यह भी पढ़ें: उत्तर कोरिया के खिलाफ कड़े कार्रवाई के पक्ष में अमेरिका, लेकिन चीन और रूस ने किया इसका विरोध

टिप्पणियां

ट्रंप ने संवाददाताओं से कहा, 'मैं मानता हूं कि राष्ट्रपति शी मुझसे 100 फीसदी सहमत हैं. वहां जो कुछ भी हो रहा है, उसे वह खुद भी नहीं देखना चाहते हैं.' राष्ट्रपति से जब सैन्य कार्रवाई के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, 'हम देखने जा रहे हैं कि आगे क्या होता है. निश्चित तौर पर सैन्य विकल्प पहला नहीं है, लेकिन हम देखेंगे कि क्या होता है.'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों, LIVE अपडेट तथा चुनाव कार्यक्रम के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement