NDTV Khabar

च‍िड़‍िया घर में पैदा हुआ दुर्लभ सफेद गैंडा, बना चर्चा का विषय

लगभग 18 हजार दक्षिणी सफेद गैंडे जंगलों में हैं पर शिकारियों के चलते ये प्रजाति लुप्त होने की स्थिति में है. हर आठ घंटे में एक गैंडे का शिकर कर दिया जाता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
च‍िड़‍िया घर में पैदा हुआ दुर्लभ सफेद गैंडा, बना चर्चा का विषय

जू के मुताबिक नवजात गेंडा पूरी तरह स्‍वस्‍थ है

खास बातें

  1. शिकारियों के चलते ये प्रजाति लुप्त होने की स्थिति में है.
  2. उत्तरी सफेद गैंडा, ज्यादा खतरे की स्थिति में है.
  3. कृत्रिम इनसेमिनेशन को चिड़ियाघर कारगर बता रहे हैं.
नई दिल्ली:

बेल्जियम के एक चिड़ियाघर में एक दुर्लभ दक्षिणी सफेद गैंडे (Rare Southern White Rhino) ने जन्म लिया है. यह जानकारी सोमवार को चिड़ियाघर ने खुद जारी की है. बता दें कि इस लुप्त होती प्रजाति को बचाने के भरसक प्रयास किये जा जा रहे हैं. बेल्जियम के पैरी डैज़ा चिड़ियाघर ने बयान जारी कर कहा है, "सोमवार सुबह एक नर गैंडे ने जन्म लिया है. मदीबा ( मादा ) और उसका बच्चा दोनों स्वस्थ हैं."

यह भी पढ़ें- गर्भ से ही बच्चों को संस्कारी बनाएगी यूपी की ये यूनिवर्सिटी, 6 महीने के कोर्स में गर्भवती महिलाओं को सिखाएंगे ये चीजें

बता दें कि लगभग 18 हजार दक्षिणी सफेद गैंडे जंगलों में हैं पर शिकारियों के चलते ये प्रजाति लुप्त होने की स्थिति में है. हर आठ घंटे में एक गैंडे का शिकर कर दिया जाता है. गौरतलब है कि गैंडे की एक और प्रजाति जो कि ज़मीन पर पाया जाने वाला दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा जानवर है, उत्तरी सफेद गैंडा, ज्यादा खतरे की स्थिति में है क्योंकि इस प्रजाति के दो गैंडे ही बचे हुए हैं. दरअसल जो दो उत्तरी सफेद गैंडे बचे हैं वे दोनों ही मादा हैं. इसलिए वक्त रहते इनके जीन्स को संरक्षित किए जाने या कृत्रिम ब्रीडिंग प्रोग्राम शुरू कर लिए जाने की जरूरत है.


टिप्पणियां

यह भी पढ़ें- रानू मंडल के बाद 2 साल की बच्ची ने गाया लता मंगेशकर का गाना ''लग जा गले'', इंटरनेट पर Viral हो रहा वीडियो

गौरतलब है कि इस साल जुलाई में सैन डिएगो में एक दक्षिणी सफेद गैंडे ने कृत्रिम इनसेमिनेशन के जरिए जन्म लिया था. चिड़ियघर ने इस तकनीक को पूरी तरह से कारगर बताया है. बता दें कि बेल्जियम चिड़ियाघर में एक और मादा एली जैश्टेशन की प्रक्रिया से गुजर रही है. उम्मीद है कि इस साल के अंत तक वो बच्चे को जन्म दे देगी.  चिड़ियाघर ने बताया ये दोनों नेचुरल प्रेग्नेंसी रही हैं. एली का पहले से एक बच्चा है जिसका नान सेथेंबा है जिसका जन्म 2016 में हुआ था और उसे यूरोप के कैप्टिव ब्रीडिंग कार्यक्रम के तहत  स्पेनिश शहर मालागा के चिड़ियाघर भेज दिया गया है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें. World News की ज्यादा जानकारी के लिए Hindi News App डाउनलोड करें और हमें Google समाचार पर फॉलो करें


Advertisement