NDTV Khabar

सर्जिकल स्ट्राइक से अपनी ताकत का अहसास कराया, किसी ने नहीं उठाया सवाल : US में पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वॉशिंगटन में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि तीन साल के कार्यकाल में उनकी सरकार पर एक भी दाग नहीं लगा.

688 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सर्जिकल स्ट्राइक से अपनी ताकत का अहसास कराया, किसी ने नहीं उठाया सवाल : US में पीएम नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वॉशिंगटन में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया...

खास बातें

  1. हमने अपनी ताकत का अहसास कराया : पीएम मोदी
  2. सर्जिकल स्ट्राइक पर किसी ने सवाल नहीं उठाया
  3. हम दुनिया को अपनी बात समझाने में सफल रहे
वॉशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को वॉशिंगटन में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि तीन साल के कार्यकाल में उनकी सरकार पर एक भी दाग नहीं लगा. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हम भारत पर आतंकवाद के खतरनाक प्रभावों के बारे में दुनिया को बताने में सफल रहे हैं. उन्होंने 'सजर्किल स्ट्राइक' का जिक्र करते हुए कहा कि आमतौर पर संयम बरतने वाला भारत अपनी संप्रभुता बचा सकता है. हमने अपनी ताकत का अहसास कराया. पीएम मोदी ने कहा,  "सर्जिकल स्‍ट्राइक एक ऐसी घटना थी, अगर दुनिया चाहती तो भारत के बाल नोंच लेती. हमें कटघरे में खड़ी कर सकती थी, हमसे जवाब मांगा जाता. लेकिन आप लोगों ने पहली बार अनुभव किया होगा कि भारत के इतने बड़े कदम पर विश्‍व में किसी ने भी एक सवाल तक नहीं उठाया. जिनको भुगतना पड़ा उनकी बात अलग है. ये इसलिए कि हम दुनिया को समझाने में सफल हुए है कि आतंकवाद का वह रूप है जो हमें परेशान कर रहा है.

यहां देखें वीडियो : अमेरिका में पीएम मोदी ने भारतीय समुदाय को किया संबोधित
 
पीएम मोदी ने वर्जीनिया के टायसन कार्नर स्थित रित्ज कार्लटन में आयोजित एक सामुदायिक स्वागत कार्यक्रम में कहा, भारत जब 20 वर्ष पहले आतंकवाद की बात करता था तो विश्व में कई यह कहते थे कि यह कानून एवं व्यवस्था की समस्या है और इसे समझते नहीं थे. यद्यपि अब आतंकवादियों ने उन्हें आतंकवाद समझा दिया है और इसलिए हमें यह करने की जरूरत नहीं है. उन्होंने कहा कि भारत विश्व को आतंकवाद को समूल नष्ट करने की जरूरत के बारे में बताने में सफल रहा है. प्रधानमंत्री मोदी ने गत तीन वर्षों में अपनी सरकार की उपलब्धियां रेखांकित करते हुए कहा, जब भारत ने सजर्किल स्ट्राइक की तो दुनिया ने हमारी ताकत का अनुभव किया और यह महसूस किया कि भारत संयम बरतता है, लेकिन जरूरत पड़ने पर ताकत भी दिखा सकता है.

उल्लेखनीय है कि भारत ने गत वर्ष उरी हमले के बाद 29 सितम्बर को नियंत्रण रेखा के पार आतंकवादी ठिकानों पर सर्जिकल हमला किया था. पीएम मोदी ने कहा कि भारत आतंकवाद का पीड़ित रहा है, लेकिन विश्व ने हमें रोका नहीं और वह हमें रोक नहीं सकता. हम विश्व को भारत पर होने वाले आतंकवाद के हानिकारक प्रभावों के बारे में बताने में सफल रहे हैं. उन्होंने परोक्ष रूप से चीन पर निशाना साधते हुए कहा कि भारत वैश्विक व्यवस्था का पालन करने में विश्वास करता है. पीएम मोदी ने कहा कि भारत वैश्विक नियमों का पालन किये बिना अपने लक्ष्यों को हासिल करने में विश्वास नहीं रखता. जाहिर तौर पर दक्षिण चीन सागर में चीन के प्रभुत्व जमाने की कोशिशों के संदर्भ में प्रधानमंत्री ने कहा भारत ने हमेशा वैश्विक व्यवस्था और कानून के शासन के दायरे में विकास का रास्ता अपनाया है. उन्होंने कहा, यही भारत की परंपरा और संस्कृति है.

पीएम मोदी ने कहा कि मैं आपको विश्‍वास दिलाता हूं कि जो सपने आपने देखे हैं वो आपके रहते पूरे होंगे. और उसका सीधा साधा कारण है. आप भी हिंदुस्‍तान में थे, आप ही अमेरिका में हैं. लेकिन सही वातावरण मिलने के बाद आप इतने फले फूले कि अमेरिका की भलाई में भी सहायक बने. आपके जैसा सामर्थ्‍य और प्रतिभा रखने वाले सवा सौ करोड़‍ हिंदुस्‍तानी हिंदुस्‍तान में बैठे हैं. वो भी आप जैसे ही हैं. आपको जैसे यहां अनुकूल माहौल मिला तो आप कहां से कहां पहुंच गए. वहां उनको भी अब अनुकूल माहौल मिल रहा है तो आप भी जानते हैं कि सवा सौ करोड़ लोग हिंदुस्‍तान को कहां से कहां ले जा सकते हैं. और जब सवा सौ करोड़ देशवासियों का जज्‍बा और कुछ कर गुजरने का इरादा पूरे देश में अनुभव होता हो, तो देशवासियों मैं आपको विश्‍वाास दिलाता हूं कि पिछले कई दशकों से जो गति नहीं थी उससे कहीं तेजी से देश आगे बढ़ रहा है.

पीएम मोदी ने यह भी दोहराया कि मैं आज सिर झुकाकर बड़ी नम्रता से कहना चाहूंगा कि इस सरकार ने तीन साल का जो कार्यकाल बिताया है, अब तक इस सरकार पर एक भी दाग नहीं लगा है. टेक्‍नोलॉजी उसमें बहुत बड़ा रोल अदा कर रही है. इससे पारदर्शिता आती है. (इनपुट्स भाषा से)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement