NDTV Khabar

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम 2018: वेतन मामले में महिलाओं को पुरुषों की बराबरी करने में लगेंगे 202 साल

विश्व आर्थिक मंच (World Economic Forum) की वार्षिक रिपोर्ट में पाया गया है कि महिलाएं पुरुषों की औसत कमाई का 63 प्रतिशत ही कमाती हैं. 149 में से एक भी देश का आकलन ऐसा नहीं है, जहां महिलाओं ने औसतन पुरुषों के बराबर वेतन हासिल किया हो.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम 2018: वेतन मामले में महिलाओं को पुरुषों की बराबरी करने में लगेंगे 202 साल

वेतन में लैंगिक असमानता खत्म होने में 202 साल लगेंगे : रपट

नई दिल्ली:

महिलाओं को पुरुषों के समान वेतन हासिल करने में 202 साल लग सकते हैं, क्योंकि वैश्विक वेतन का अंतर बहुत बड़ा है और परिवर्तन की गति बेहद धीमी है. यह बात विश्व आर्थिक मंच (World Economic Forum) की रिपोर्ट में कही गई है. डब्ल्यूईएफ की वार्षिक रिपोर्ट में पाया गया है कि महिलाएं पुरुषों की औसत कमाई का 63 प्रतिशत ही कमाती हैं. 149 में से एक भी देश का आकलन ऐसा नहीं है, जहां महिलाओं ने औसतन पुरुषों के बराबर वेतन हासिल किया हो.

डब्ल्यूईएफ के मुताबिक, पिछले साल के दौरान वैश्विक तौर पर वेतन में लैगिंक असमानता का अंतर थोड़ा कम हो गया है, लेकिन कार्यस्थलों पर महिलाओं की संख्या में कमी आई है. 2017 में डब्ल्यूईएफ ने अनुमान लगाया था कि वेतन अंतर को खत्म करने में 217 साल लगेंगे. 

सिर पर लाल टोपी और झोला लेकर अस्पताल पहुंचे बराक ओबामा, बच्चों ने कुछ यूं दिए रिएक्शन, देखें VIDEO


डब्ल्यूईएफ में सामाजिक और आर्थिक एजेंडे की प्रमुख सादिया जहीदी ने 'द गार्जियन' को बताया, "समग्र तस्वीर यह है कि लैगिंक समानता रुक गई है. हमारे श्रम बाजार का भविष्य उतना समान नहीं हो सकता, जितना हमने एक समय सोचा था." 

रिपोर्ट के मुताबिक, दक्षिण पूर्व एशिया में लाओस महिलाओं के साथ समान व्यवहार करने के सबसे नजदीक है, जहां महिलाएं पुरुषों के वेतन का 91 प्रतिशत कमाती हैं. 

वहीं, यमन, सीरिया और इराक में महिलाओं व पुरुषों के वेतन में सर्वाधिक अंतर देखा गया, जहां महिलाएं पुरुषों के वेतन का 30 प्रतिशत ही कमाती हैं. 

तस्वीरों में देखें साल 2018 की 5 सबसे बड़ी शादियां

डब्ल्यूईएफ की 50 देशों की सूची में ब्रिटेन 149वें स्थान पर है, जहां की महिलाएं पुरुषों के वेतन का 70 प्रतिशत कमाती हैं. 

आइसलैंड राजनीतिक भूमिकाओं के मामले में सबसे समतावादी देश है, लेकिन अभी भी यहां महिला व पुरुष के वेतन में 33 प्रतिशत अंतर है, जो पिछले वर्ष की तुलना में बढ़ा है.

साल 2018 के 5 VIRAL वीडियो, कहीं पत्नी ने दबाए पति के पैर...तो कहीं मां ने बेटियों की कर दी चप्पलों से धुनाई

इनपुट - आईएएनएस

टिप्पणियां

वीडियो - 7वें वेतन आयोग के विरोध की वजह क्या है?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement