Coronavirus पर WHO की चेतावनी - कभी खत्म नहीं हो सकता कोरोना, इसके साथ जीना सीखना होगा

विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) इस वायरस को महामारी घोषित कर चुका है. WHO ने चेतावनी देते हुए कहा कि हो सकता है कि कोरोनावायरस कभी खत्म न हो और दुनिया को इसके साथ जीना सीखना होगा.

Coronavirus पर WHO की चेतावनी - कभी खत्म नहीं हो सकता कोरोना, इसके साथ जीना सीखना होगा

दुनियाभर में कोरोना से करीब तीन लाख लोगों की मौत हो गई है. (फाइल फोटो)

खास बातें

  • WHO ने कोरोनावायरस को घोषित की महामारी
  • दुनियाभर में कोरोना के 43 लाख से ज्यादा मामले
  • अब तक कोरोना से करीब तीन लाख लोगों की मौत
जेनेवा:

दुनियाभर में कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामले बढ़ते ही जा रहे हैं. COVID-19 के 43 लाख से ज्यादा केस अब तक सामने आ चुके हैं. करीब तीन लाख लोगों की मौत हो चुकी है. विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization) इस बीमारी को महामारी घोषित कर चुका है. बुधवार को WHO ने चेतावनी देते हुए कहा कि हो सकता है कि कोरोनावायरस कभी खत्म न हो और दुनिया को इसके साथ जीना सीखना होगा.

WHO ने कहा कि कोरोनावायरस पूरी तरह से खत्म नहीं होगा. संगठन के आपातकालीन सेवाओं के निदेशक माइकल रायन ने जेनेवा में आयोजित की गई एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, 'पहली बार मानव आबादी में एक नया वायरस प्रवेश कर रहा है और इसलिए यह अनुमान लगाना बहुत कठिन है कि हम उस पर कब हावी होंगे. कोरोना हमारे समुदायों में सिर्फ एक अन्य स्थानिक वायरस बन सकता है और हो सकता है कि यह वायरस कभी नहीं खत्म हो.'

उन्होंने आगे कहा, 'HIV खत्म नहीं हुआ लेकिन हम उस वायरस के साथ शर्तों पर जीना सीख गए. ज्यादातर देशों ने इस वायरस से बचाव के लिए लॉकडाउन किया लेकिन WHO ने चेताया था कि इसकी कोई गारंटी नहीं है कि इसके बाद ये न फैले और हमें इस वायरस से निजात मिल पाए. फिलहाल हालात सामान्य होने में काफी लंबा समय लगेगा.'

माइकल रायन ने दुनिया के कई देशों में स्वास्थ्यकर्मियों पर हो रहे हमलों की भी निंदा की. उन्होंने कहा कि अप्रैल में 11 देशों में हेल्थ वर्कर्स पर गंभीर हमलों के 35 मामले सामने आए थे. स्वास्थ्यकर्मियों पर हमले निराशाजनक हैं.

गौरतलब है कि दुनियाभर के देशों के साथ-साथ भारत में भी कोरोनावायरस का कहर तेजी से बढ़ता जा रहा है. रिपोर्ट्स के अनुसार, 180 से ज्यादा देशों में फैल चुका यह वायरस अब तक करीब तीन लाख जानें ले चुका है. दुनियाभर में 43 लाख से ज्यादा लोग इससे संक्रमित हो चुके हैं. भारत में इस वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 78,003 हो गई है. पिछले 24 घंटों में कोरोना के 3,722 नए मामले सामने आए हैं और 134 लोगों की मौत हुई है.

देश में अभी तक 2,549 लोगों की मौत हो चुकी है, हालांकि 26,235 मरीज इस बीमारी को मात देने में सफल भी हुए हैं. देश के सभी राज्यों से इसके मरीज सामने आ रहे हैं. पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने 24 मार्च को कोरोना से बचाव के चलते ही देश में 21 दिनों के लॉकडाउन की घोषणा की थी. जिसके बाद 14 अप्रैल को पीएम ने एक बार फिर देश की जनता को संबोधित करते हुए 19 दिनों के लिए लॉकडाउन को आगे बढ़ाए जाने की जानकारी दी. 3 मई को यह मियाद खत्म होनी थी लेकिन इससे पहले ही गृह मंत्रालय ने दो हफ्तों के लिए लॉकडाउन को और बढ़ा दिया. अब यह 17 मई तक लागू रहेगा, हालांकि जिन जिलों (ऑरेंज और ग्रीन जोन) में कोरोना के केस नहीं हैं, वहां सरकार ने इसमें थोड़ी ढील भी दी है.

VIDEO: रवीश कुमार का प्राइम टाइम : कोरोना संकट में छोटे उद्योगों को बड़ा पैकेज



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)
 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com