साउथ कोरिया से नाराज होकर नॉर्थ कोरिया ने खत्म किए सभी सैन्य और राजनीतिक रिश्ते

नॉर्थ कोरिया (North Korea) ने अपने प्रतिद्वंदी दक्षिण कोरिया (South Korea) के साथ सभी तरह के सैन्य और राजनीतिक संबंधों को खत्म करने का फैसला किया है.

साउथ कोरिया से नाराज होकर नॉर्थ कोरिया ने खत्म किए सभी सैन्य और राजनीतिक रिश्ते

पिछले हफ्ते नॉर्थ कोरिया ने दी थी दक्षिण कोरिया को धमकी

नई दिल्ली:

नॉर्थ कोरिया (North Korea) ने अपने प्रतिद्वंदी दक्षिण कोरिया (South Korea) के साथ सभी तरह के सैन्य और राजनीतिक संबंधों को खत्म करने का फैसला किया है. अधिकारियों ने एक समाचार एजेंसी को बताया कि नॉर्थ कोरिया ने दक्षिण कोरिया द्वारा सीमा पर पर्चे बांटने के बाद यह फैसला लिया है. बता दें कि 2018 के बाद से अंतर कोरियाई देशों के संबंधों में ठहराव देखने को मिला था. नॉर्थ कोरिया के किम जोंग उन (Kim Jong Un) और साउथ कोरिया के मून जे इन (Moon Je In) के बीच तीन शिखर वार्ता सम्मेलन भी हो चुके हैं.  

रिपोर्ट के अनुसार पहले कदम के रूप में नॉर्थ कोरिया (North Korea), कोरियाई देशों की संपर्क लाइन को काटने जा रही है. यह दोनों देशों की संपर्क लाइन के बीच काम करती थी साथ ही राष्ट्रपतियों के लिए तैयार की गई हॉट लाइन को भी खत्म कर दिया जाएगा. नॉर्थ कोरिया का कहना है कि उनके लोग दक्षिण कोरिया के विश्वासघाती रवैये से नाराज हैं. रिपोर्ट के अनुसार नॉर्थ कोरिया का मानना है कि दक्षिण कोरिया के अधिकारियों ने गैर-जिम्मेदाराना रूप से किम जोंग उन की गरिमा को चोट पहुंचाई है. 

बता दें कि पिछले हफ्ते नॉर्थ कोरिया ने साउथ कोरिया को संबंध तोड़ने की धमकी भी दी थी. किम यो जोंग ने साउथ कोरिया को धमकी थी कि अगर वह अपने देश में नॉर्थ कोरिया के विद्रोहियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करेगा तो वह उनसे संबंध तोड़ लेंगे. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि दक्षिण कोरिया के कुछ संगठन उत्तर कोरिया का पुरजोर विरोध करते हैं, कभी सीमा पार से पर्चे और चिट्ठियां फेंकी जाती हैं तो कई बार गुब्बारे उड़ाए जाते हैं. इन चिट्ठियों और गुब्बारों में किम जोंग उन के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा के साथ उत्तर कोरिया के खिलाफ काफी कुछ लिखा रहता है. नॉर्थ कोरिया इस बाबत दक्षिण कोरिया से कई बार अपनी नाराजगी भी जाहिर कर चुका है. 

Video: किम जोंग उन से मिले अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप