यह ख़बर 25 नवंबर, 2013 को प्रकाशित हुई थी

ईरान के साथ परमाणु समझौते का दुनियाभर में स्वागत

ईरान के साथ परमाणु समझौते का दुनियाभर में स्वागत

ईरान के राष्ट्रपति हसन रुहानी

वाशिंगटन/मास्को/लंदन:

ईरान के साथ दुनिया की प्रमुख शक्तियों के बीच हुए परमाणु समझौते का दुनियाभर में स्वागत किया गया है। अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने समझौते के बारे में इस्राइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू को फोन करके जानकारी दी। वार्ता के दौरान दोनों नेताओं ने ईरान को परमाणु बम बनाने से रोकने के अपने लक्ष्य के बारे में व्यापक चर्चा की।

समाचार एजेंसी सिन्हुआ के अनुसार, ओबामा ने नेतन्याहू को आश्वासन दिया कि पी5+1 (संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के पांच स्थाई सदस्य और जर्मनी) ईरान के परमाणु कार्यक्रम का एक ऐसा शांतिपूर्ण हल निकालेंगे, जिससे दुनिया को ईरान के परमाणु कार्यक्रम के प्रति सभी शंकाओं का समाधान होगा।

उधर, रूस के विदेश मंत्रालय ने एक बयान में कहा है कि ईरान के साथ हुआ प्राथमिक समझौता सभी के लिए बेहतर है। रूस के अनुसार जेनेवा समझौता चरण दर चरण और पारस्परिक गतिविधियों पर आधारित है।

मंत्रालय ने यह भी कहा कि वह ईरान के शांतिपूर्ण परमाणु कार्यक्रम और कड़े अंतरराष्ट्रीय नियंत्रण में परमाणु संवर्धन के अधिकार को स्वीकार करता है।

रूस ने ईरान पर से कुछ अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों में ढील के फैसले का भी स्वागत किया, जिसके कारण लंबे समय में उसकी सामाजिक और आर्थिक स्थिति प्रभावित हुई है।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने समझौते का स्वागत करते हुए रविवार को कहा कि ईरान के परमाणु कार्यक्रम पर समझौता इस दिशा में एक महत्वपूर्ण पहला कदम है। इस समझौते को पूरी तरह लागू किया जाना चाहिए।

ब्रिटिश विदेशमंत्री विलियम हेग ने समझौते का स्वागत करते हुए इसे ईरान के साथ अंतरराष्ट्रीय संबंधों के लिए एक महत्वपूर्ण क्षण बताया।