NDTV Khabar

हैदराबाद : होटल मैनेजमेंट ने रात में इस 'अकेली' लड़की को ठहराने से किया मना, वजह हैरान करने वाली

हद तो तब हो गई जब यह पता चला कि नूपुर के लिए यह ऑनलाइन के जरिए कमरा बुक कराया गया था. उन्होंने इस पूरी घटना के बारे में फेसबुक पर भी लिखा है जिसे 1 हजार बार शेयर किया जा चुका है और 1600 रिएक्शन आ चुके हैं. 

2728 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
हैदराबाद :  होटल मैनेजमेंट ने रात में इस 'अकेली' लड़की को ठहराने से किया मना, वजह हैरान करने वाली

खास बातें

  1. हैदराबाद का होटल में हैरान कर देने वाला नियम
  2. नूपुर का फेसबुक पोस्ट हुआ वायरल
  3. अब तक 1 हजार बार किया जा चुका है शेयर
नई दिल्ली: सिंगापुर की रहने वाली 22 साल की नूपुर सारस्वत एक कलाकार हैं और कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के लिए वह भारत का भ्रमण करती हैं. एक कार्यक्रम के सिलसिले में आईटी सिटी हैदराबाद पहुंची नूपुर को एक बड़ी परेशानी का सामना करना पड़ गया. लेकिन यहां के होटल में उनको इसलिए नहीं ठहरने दिया गया क्योंकि वह 'अकेली महिला' थीं. होटल मैनेजमेंट ने अपने यहां नियम बना रखा है कि किसी अकेली महिला को ठहरने की इजाजत नहीं दी जाएगी.  हद तो तब हो गई जब यह पता चला कि नूपुर के लिए यह ऑनलाइन के जरिए कमरा बुक कराया गया था. उन्होंने इस पूरी घटना के बारे में फेसबुक पर भी लिखा है जिसे 1 हजार बार शेयर किया जा चुका है और 1600 रिएक्शन आ चुके हैं. 

नुपुर ने फेसबुक पर एक स्क्रीनशॉट भी शेयर किया है जिसमें होटल की ओर से लिखा गया है कि 'अकेली महिला को इजाजत' नहीं है. इसके अलावा नुपुर ने कई ट्वीट करके ट्रैवेल पोर्टल  Goibibo से भी पूछा है कि उसकी ओर से इस होटल में बुकिंग कैसे कर दी गई जब यहां अकेली महिला को ठहरने की इजाजत नहीं है. 



एनडीटीवी से बातचीत में नुपुर ने बताया कि ट्रैवेल पोर्टल  Goibibo के प्रतिनिधि ने उनसे बात की है कि वहर इस मामले को देख रहे हैं और वेबसाइट में भी ऐसे होटलों की छानबीन की जा रही है. इसके अलावा पोर्टल की ओर से नूपुर को दूसरे होटल में ठहरने की व्यवस्था की गई है. 
  वहीं एक दूसरे फेसबुक पोस्ट में नूपुर ने इस घटना को लेकर अपने दिल की भी बात कही है. उन्होंने लिखा  'मैं अकेले घूमने वाली महिलाओं के लिए एक सुरक्षित दूरी चाहती हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग इन बातों पर चुप्पी साधे रखना चाहते हैं और पूछते हैं कि जब होटल की पॉलिसी में साफ लिखा है तो हंगामा क्यों किया जा रहा है. हां, मैं इस बात का बतंगड़ बनाना चाहती हूं क्योंकि मैं ऐसे शांत नहीं रह सकती. मैं अपनी सुरक्षा को लेकर सशंकित रहकर रहने के लिए तैयार नहीं हूं. मैं ऐसी व्यवस्था के साथ नहीं रहने को तैयार नहीं हूं जहां मैं तभी यात्रा कर सकूं जब मेरी सुरक्षा के लिए मेरे साथ कोई पुरुष जरूर मौजूद हो.
   


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement