NDTV Khabar

उम्र 62 और काम किया सुपरहीरो वाला, ऑस्ट्रेलिया में दादाजी ने दिखाया कमाल

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
उम्र 62 और काम किया सुपरहीरो वाला, ऑस्ट्रेलिया में  दादाजी ने दिखाया कमाल
सिडनी:

दादा-दादी और नाना-नानी के लाड़ के लिए अक्सर कहा जाता है कि असल से सूद ज्यादा प्यारा होता है और यही स्नेह उनसे क्या क्या नहीं करवा देता। इसकी मिसाल ऑस्ट्रेलिया में देखने को मिली, जब भारत से आए एक 62 साल के दादा अपनी 18 महीने की पोती को बचाने के लिए ट्रेन के सामने कूद पड़े।

डेली टेलिग्राफ की खबर के अनुसार कुछ ही दिन पहले ऑस्ट्रेलिया आए दादा सिडनी के एक रेल्वे स्टेशन पर अचानक ट्रेन के सामने कूद पड़े, जब उनकी पोती का प्रैम गलती से रेलवे ट्रैक के सामने आ गया।

दादा ने ट्रैक पर कूदकर बड़ी ही फुर्ती से प्रैम को उठाया और प्लेटफॉर्म पर खड़ी अपनी पत्नी और बच्ची की मां के हाथ में थमा दिया, लेकिन खुद उन्हें प्लेटफॉर्म पर चढ़ने का मौका नहीं मिल पाया। तेजी से आती ट्रेन को देखकर वह ट्रैक पर आगे की और दौड़ने लगे और मौका मिलते ही प्लेटफॉर्म पर चढ़ गए।

बताया जा रहा है कि ये परिवार गुरुद्वारे दर्शन के लिए अपने घर से निकला था, जब स्टेशन पर लगे सीसीटीवी कैमरे ने इस 'बहादुरी' घटना को कैद कर लिया। खराब मौसम की वजह से वेंटवर्थविल स्टेशन के प्लेटफॉर्म की ढलान ट्रैक्स की तरफ हो रही है।


टिप्पणियां

बच्ची के चाचा परमिंदर सिंह ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि दादाजी ने बहुत ही बहादुरी का काम किया है, बच्ची को बचाने के लिए वो अपनी जान की परवाह किए बगैर कूद पड़े।

बच्ची और उसके दादा को हल्की चोट आई थी और कुछ घंटे बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी भी मिल गई। सिडनी ट्रेन्स के डायरेक्टर ऑफ ऑपरेशन्स टॉनी एड ने कहा कि जल्द ही स्टेशन की मरम्मत की जाएगी, ताकि इस तरह की दुर्घटनाएं दोबारा ना घटें।



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement