नहीं थे गाड़ी के कागज, कार छुड़ाने के लिए भरना पड़ा 27 लाख रुपये का Fine

इससे पहले 9.8 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया था लेकिन जब आरटीओ ने पुराने रिकॉर्ड खंगाले तो जुर्माने की राशि 27.68 लाख रुपये कर दी गई.

नहीं थे गाड़ी के कागज, कार छुड़ाने के लिए भरना पड़ा 27 लाख रुपये का Fine

अहमदाबाद पुलिस ने एक कार चालक पर 27 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है.

खास बातें

  • अहमदाबाद में गाड़ी के पीछे शख्स को भरना पड़ा 27 लाख का जुर्माना
  • नवंबर महीने में ट्रैफिक पुलिस ने जब्त की थी कार
  • देश में अब तक का सबसे बड़ा ट्रैफिक जुर्माना है
अहमदाबाद:

अहमदाबाद  (Ahmedabad) में एक  पोर्शे 911 स्पोर्ट्स कार (Porsche 911 sports car) के मालिक को अपनी कार वापिस लेने के लिए 27.68 लाख रुपये भरने पड़े. अहमदाबाद पुलिस ने कागज न पूरे होने के चलते गाड़ी को कब्जे में ले लिया था. जिसके बाद कार के मालिक ने बकाया टैक्स, ब्याज और जुर्माने समेत यह राशि भरी. मंगलवार को अहमदाबाद रीजनल ट्रांस्पोर्ट ऑफिस (Ahmedabad Regional Transport Office) में राशि जमा करने के बाद रणजीत देसाई (Ranjit Desai) ने ट्रैफिक पुलिस से अपनी जब्त की गई गाड़ी वापिस ली.

क्या 14 फरवरी को शादी कर रही हैं नेहा कक्कड़? मम्मी-पापा को पसंद आया लड़का!

बता दें कि नवंबर में पुलिस ने गाड़ी जब्त की थी. इसके बाद अहमदाबाद ट्रैफिक पुलिस  (Ahmedabad Traffic Police) ने अपने ट्विटर हैंडल से आरटीओ रिसीप्ट की तस्वीर ट्वीट की है. पुलिस का दावा है कि देश के इतिहास में 27.68 लाख रुपये अब तक का सबसे बड़ा जुर्माना है. बुधवार को पुलिस ने ट्वीट किया, "आरटीओ ने एक पोर्शे कार पर 27.568 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है. जिसे पुलिस ने कागज पूरे न होने के चलते जब्त किया था. देश में आज तक इतना जुर्माना किसी से नहीं लिया गया है."

Prince Harry और उनकी पत्नी ने किया रॉयल लाइफ छोड़ने का ऐलान, बोले- 'बनेंगे आत्‍मनिर्भर' लोगों ने ऐसे उड़ाया मजाक

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बता दें कि 28 नवंबर को गाड़ी पर नंबर प्लेट न होने के चलते गाड़ी को रोका गया था. इसके बाद से गाड़ी पुलिस के कब्जे में ही थी. मामले में पुलिस का कहना है कि जब कार सवार से कागज मांगे गए तो उसके पास पूरे कागज नहीं थे. पुलिस ने कहा, "इसके बाद हमने गाड़ी को कब्जे में ले लिया और मोटर व्हीकल एक्ट (Motor Vehicle Act) के तहत मेमो जारी किया. जिसके बाद कार के मालिक को जुर्माना भरना था और गाड़ी वापस लेने के लिए रिसीप्ट दिखानी थी."

इससे पहले 9.8 लाख रुपये का जुर्माना लगाया गया था लेकिन जब आरटीओ ने पुराने रिकॉर्ड खंगाले तो जुर्माने की राशि 27.68 लाख रुपये कर दी गई, जो कि देश में लगाया गया अब तक सबसे भारी जुर्माना है.