4 साल की उम्र में खो गई थी बच्ची, 12 साल बाद Facebook ने वापस परिवार से मिलाया

आंध्रप्रदेश की इस बच्ची का नाम भवानी है जो वामसी कृष्णा के घर पर काम करने के लिए आई थी. इसके बाद वामसी कृष्णा से बात करते हुए उसने बताया था कि वह विजयवाड़ा में 4 साल की उम्र में अपने माता-पिता से बिछड़ गई थी.

4 साल की उम्र में खो गई थी बच्ची, 12 साल बाद Facebook ने वापस परिवार से मिलाया

वामसी कृष्णा ने लड़की के भाई को फेसबुक पर ढूंढा.

नई दिल्ली:

आंध्रप्रदेश (Andhra Pradesh) की एक लड़की 12 साल बाद अपने परिवार से जल्द मिलने वाली है. यह लड़की 4 साल की उम्र में खो गई थी और फेसबुक (Facebook) के जरिए वापस अपने परिवार को मिल पाई है. दरअसल, वामसी कृष्णा नाम का एक शख्स फेसबुक की मदद से अपने परिवारों से अलग हुए नाबालिगों को वापस उनके परिवार से मिलाने का काम करता है. 

यह भी पढ़ें: चौथी मंजिल से नीचे गिरने ही वाला था बच्‍चा, मां ने आधे सेकंड में इस तरह बचाई जान

आंध्रप्रदेश की इस बच्ची का नाम भवानी है जो वामसी कृष्णा के घर पर काम करने के लिए आई थी. इसके बाद वामसी कृष्णा से बात करते हुए उसने बताया था कि वह विजयवाड़ा में 4 साल की उम्र में अपने माता-पिता से बिछड़ गई थी. इसके बाद उसे एक महिला ने गोद ले लिया और वह तबसे उस महिला के साथ विजयवाड़ा में रह रही है. भवानी ने कहा कि वह वापस अपने परिवार से मिलकर काफी खुश है. वामसी कृष्णा ने भवानी के भाई को फेसबुक पर ढूंढा था.

जम्मू रेलवे स्टेशन पर बिछड़ी अमृतसर की 12 साल पूजा, पुलिस ने परिजनों से मिलाया

न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए वामसी कृष्णा ने कहा, ''मैं किसी को भी काम पर रखने से पहले उनके कागजों को देखती हूं. इसलिए मैंने इस बच्ची से भी उसके कागज मांगे थे ताकि मुझे पता चल पाए कि इसकी उम्र क्या है. इस पर बच्ची ने कहा कि उसके पास कोई कागज नहीं हैं, क्योंकि वह 4 साल की उम्र में खो गई थी और उसे एक महिला ने गोद ले लिया''. उन्होंने आगे कहा, ''फिर मैंने उससे पूछा कि क्या वह अपने असली माता-पिता से मिलना चाहती है, तो उसने हां बोला. इसके बाद मैंने उसकी जानकारी ली और फेसबुक पर उसके माता-पिता को ढूंढना शुरू कर दिया''. 

Newsbeep

मुंबई : 18 साल पहले बिछड़े युवक को एक सिपाही ने घर पहुंचा दिया

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


वामसी ने आगे बताया, ''मैंने अपने कुछ जानने वालों को बच्ची के बारे में बताया और उनमें से एक ने मेरे द्वारा दी गई जानकारी पर मैसेज किया''. इसके बाद मैंने उसकी सभी चीजें पूछीं, जो लड़की से मिली जानकारी से मिल रही थी. इसके बाद मैंने वीडियो कॉल के लिए कहा. इसके बाद लड़की के परिवार ने कहा कि वह उनकी की बेटी है''.