NDTV Khabar

टीवी शो में अपनी ही लिखी किताब को चबा गया लेखक, जानें क्या थी वजह

मैथ्यू किताब 'ब्रेग्जिट: व्हाइ ब्रिटेन वोटेड टू लीव यूरोपियन यूनियन' के सह-लेखक हैं। पिछले महीने उन्होंने एक ट्वीट कर दावा किया था कि जेरेमी कोर्बिन की अगुवाई वाली लेबर पार्टी को 38 प्रतिशत से कम वोट मिलेंगे. साथ ही कहा था कि अगर उनकी बात झूठ साबित हुई तो वे अपनी लिखी हुई किताब को चबाकर खा जाएंगे.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
टीवी शो में अपनी ही लिखी किताब को चबा गया लेखक, जानें क्या थी वजह

अपनी ही लिखी किताब चबाते हुए लेखक मैथ्यू गुडविन.

खास बातें

  1. ब्रिटिश चुनाव में लेबर पार्टी को 38% से कम वोट मिलने की भविष्यवाणी की थी
  2. लेबर पार्टीं को चुनाव में मिले 40 फीसदी वोट
  3. वादा पूरा करने के लिए लेखक ने चबाई अपनी लिखी किताब
लंदन:

इंग्लैंड के एक लेखक टीवी चैनल के एक शो में एक किताब चबा गए. यह किताब उन्होंने खुद ही लिखी थी. उन्होंने ऐसा इसलिए किया क्योंकि उन्होंने इंग्लैंड के संसदीय चुनाव में लेबर पार्टी के 38 फीसदी से कम वोट मिलने की भविष्यवाणी की थी, जो गलत साबित हो गई है। अजीबोगरीब हरकत करने वाले लेखक का नाम मैथ्यू गुडविन है. वह यूनिवर्सिटी ऑफ केंट में प्रोफेसर हैं. मैथ्यू किताब 'ब्रेग्जिट: व्हाइ ब्रिटेन वोटेड टू लीव यूरोपियन यूनियन'  के सह-लेखक हैं। पिछले महीने उन्होंने एक ट्वीट कर दावा किया था कि जेरेमी कोर्बिन की अगुवाई वाली लेबर पार्टी को 38 प्रतिशत से कम वोट मिलेंगे. साथ ही कहा था कि अगर उनकी बात झूठ साबित हुई तो वे अपनी लिखी हुई किताब को चबाकर खा जाएंगे.


मतगणना में पता चला कि आठ जून को हुए चुनाव में लेबर पार्टी को 40.3 फीसदी वोट मिले हैं. वादा पूरा करने के लिए मैथ्यू स्काई टीवी चैनल में पहुंचे. यहां उन्हें उनका वादा याद दिलाया गया तो उन्होंने कहा कि वे अपनी कही हुई बात को जरूर निभाएंगे.
 


इसके बाद वह लाइव शो में ही अपनी किताब के पन्ने फाड़कर चबाने लगे. टीवी की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि मैथ्यू गुडविन एक-एक पन्ने को गिनकर चबाते रहे. 

टिप्पणियां

मालूम हो कि ब्रिटेन में हुए मध्यावधि चुनाव में प्रधानमंत्री टेरीजा मे की कंजर्वेटिव पार्टी को उस समय बड़ा झटका लगा जब वह संसद में अपनी पार्टी का बहुमत बरकरार रखने में नाकाम रही. इससे ब्रेग्जिट वार्ता से पहले अनिश्चितता की नई स्थिति पैदा हो गई है. कंजर्वेटिव पार्टी 650 सदस्यीय संसद में सर्वाधिक सीटें हासिल करने वाली पार्टी के तौर पर उभरी है. पार्टी को 313 और लेबर पार्टी को 260 सीटें मिले हैं.

टेरीजा ने दक्षिण-पूर्व इंग्लैंड की अपनी मैडनहेड सीट पर भले ही 37,780 मतों से जीत हासिल कर ली लेकिन संसद में बहुमत खोने के बाद उन पर इस्तीफा देने का दबाव बढ़ गया है. परिणाम की अंतिम घोषणा से पहले टेरीजा ने कहा कि ब्रिटेन को स्थिरता की आवश्यकता है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement