NDTV Khabar

कार की छत पर खेती और डैशबोर्ड को बना दिया बुलशेल्फ, जानें इस टैक्सी के बारे में

धनंजय चक्रवर्ती का फितूर उन्हें काफी अलग बना गया है. चार पांच साल से अपनी इस प्राइवेट अंबेसडर को चला रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
कार की छत पर खेती और डैशबोर्ड को बना दिया बुलशेल्फ, जानें इस टैक्सी के बारे में
इस दुनिया में जहां हर कोई एक जैसा हो जाना चाहता है, धनंजय चक्रवर्ती का फितूर उन्हें काफी अलग बना गया है. चार पांच साल से अपनी इस प्राइवेट अंबेसडर को चला रहे हैं. कोलकाता के नामी गिरामी कार्टूनिस्टों ने इस पर कार्टून बनाए हैं. इसे कार्टूनकार का नाम दिया गया है. कार के ऊपर घास की खेती चल रही है. कार के भीतर पीछे की सीट के ऊपर छोटे छोटे गमले रखे हैं. अंदर का माहौल भी काफी रंगनी है. रवीश कुमार ने फेसबुक पर धनंजय चक्रवर्ती का जिक्र किया है. 
 
bapi green taxi

सफेद रंग की यह अंबेसडर पूरे हिन्दुस्तान में इकलौती कार होगी जो हरियाली को अपने सर पर लिए घूम रही है. धनंजय खुद कार चला रहे थे. बातचीत के बाद अपना कार्ड भी दिया. उन्होंने फेसबुक पर 'बापी ग्रीन टैक्सी' नाम से पेज तैयार कर रखा है. जहां उन्होंने रवीश कुमार को धन्यवाद दिया.



अंग्रेज़ी में लिखा था बापी ग्रीन टैक्सी. ये वाली प्राइवेट कार है. बाकी एक या दो कारें टैक्सी में चलती हैं जिनकी छत पर घास उगी है. फूल खिले हैं. धनंजय की टेक्सी में जब भी बच्चे बैठते है तो वह उन्हें कॉमिक दे देते है और जब बड़े बैठते हैं.
 
bapi green taxi

उनका मानना है कि गाहक का ज्यादा ध्यान मोबाइल पर न रहे. जिनको उनकी टैक्सी में बुक या कॉमिक्स पसंद आ जाती है तो ग्राहक उनसे आधे रेट में खरीद लेते हैं. धनंजय की ये टैक्सी 'बप्पी ग्रीन टैक्सी' (Bapi Green Taxi) के नाम से सोशल मीडिया पर पॉपुलर है, जो बेहद लोकप्रिय है.



टिप्पणियां

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement