बर्फीली बारात: बर्फबारी से जमी हुई थी सड़कें तो दुल्हन के घर पहुंचने के लिए दूल्हे ने किया ये काम...

बर्फ से खुद को बचाने के लिए दूल्हे ने हाथ में छतरी थामी हुई थी और उसके पीछे-पीछे बारात चल रही थी.

बर्फीली बारात: बर्फबारी से जमी हुई थी सड़कें तो दुल्हन के घर पहुंचने के लिए दूल्हे ने किया ये काम...

उत्तराखंड में एक दूल्हा चार किलोमीटर बर्फ में चलकर दुल्हन के घर पहुंचा.

खास बातें

  • उत्तराखंड के चमोली में एक दूल्हा बर्फ में चलकर दुल्हन के घर पहुंचा
  • बारात समेत 4 किलोमीटर बर्फ में चला दूल्हा
  • भारी बर्फबारी से जनजीवन प्रभावित है
देहरादून:

जनवरी का महीना खत्म होने को है लेकिन उत्तर भारत में ठंड खत्म होने का नाम नहीं ले रही है. हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के कई हिस्सों में बर्फबारी जारी है. बर्फबारी से आम जनजीवन प्रभावित हो रहा है. लेकिन बर्फबारी और उससे होने वाली असुविधा एक दूल्हे और उसकी बारात के हौसले को डिगा नहीं पाए. रास्ते में बर्फ जम जाने से बारात के लिए अपनी मंजिल तक पहुंचना आसान नहीं था. उत्तराखंड के चमोली जिले के बिजरा गांव का एक दूल्हा बारात समेत 4 किलोमीटर बर्फ में चलकर दुल्हन के दरवाजे तक पहुंचा. बर्फबारी में चलकर बारात लुंतारा गांव पहुंची जहां विवाह संपन्न हुआ.  

हाथ में तलवार लेकर दुल्हन ने निकाली अपनी बारात, घोड़ी लेकर पहुंची दूल्हे के घर और जमकर किया डांस

बर्फ से खुद को बचाने के लिए दूल्हे ने हाथ में छतरी थामी हुई थी और उसके पीछे-पीछे बारात चल रही थी. बता दें कि पहाड़ी राज्यों में बर्फबारी से शादी ब्याह के सीजन पर भी असर पड़ा है. पिछले हफ्ते कश्मीर में भारी बर्फबारी से एक जवान अपनी शादी में ही पहुंच नहीं पाया था. हिमाचल प्रदेश के मंडी के रहने वाले एक जवान की शादी थी.

बारात सुनील का इंतजार कर रही थी. सुनील समय से अपनी बारात के लिए नहीं पहुंच सके थे. इसके बाद शादी की तारीख को आगे बढ़ा दिया गया.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com