भोपाल : पालतू सफेद चूहे की मौत के गम में 12 साल की छात्रा ने जान दे दी

भोपाल के अयोध्या नगर की निवासी छात्रा दिव्यांशी राठौर अपने सफेद चूहे की मौत का दुख नहीं सह पाई, कुछ माह पहले उसका पालतू कुत्ता भी मर गया था

भोपाल : पालतू सफेद चूहे की मौत के गम में 12 साल की छात्रा ने जान दे दी

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  • दिव्यांशी ने घर के आंगन में बनी क्यारी में चूहे को दफनाया
  • पुष्प अर्पित करके मृत चूहे को श्रद्धांजलि भी दी
  • चूहे को दफनाने के बाद खुद को कमरे में बंद करके फांसी लगाई
भोपाल:

पालतू जानवर कुत्ते-बिल्ली वगैरह से इंसान हमेशा से प्यार करते रहे हैं लेकिन चूहे से भी क्या कोई इतना प्रेम कर सकता है कि उसकी मौत पर अपनी इहलीला समाप्त कर दे? ऐसी घटना मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में सामने आई. एक मासूम बच्ची ने अपने पालतू चूहे की मौत पर आत्महत्या कर ली.  

भोपाल के अयोध्या नगर में एक 12 वर्षीय स्कूल छात्रा ने अपने पालतू चूहे की मौत से दुखी होकर कथित रूप से अपने घर में फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली. अयोध्या नगर पुलिस थाना प्रभारी बलजीत सिंह ने बताया कि ‘‘अपने पालतू सफेद चूहे की मौत से दुखी होकर दिव्यांशी राठौर ने कल अपने कमरे में दुपट्टे से फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली. वह शहर के अयोध्या नगर इलाके में सुरभि विहार परिसर में रहती थी और सेंट पॉल स्कूल में सातवीं की छात्रा थी.’’

यह भी पढ़ें : पालतू तोते की मौत की खबर ने न्‍यूजीलैंड के क्रिकेटर डग ब्रेसवेल को दिलाई सजा...

सिंह ने बताया कि दिव्यांशी के परिजन के अनुसार इस चूहे को चार-पांच दिन पहले उसका पिता महेन्द्र सिंह राठौर लेकर आया था और वह इस चूहे से काफी घुल-मिल गई थी. कल सुबह इस चूहे की अचानक मौत हो गई, जिससे वह काफी उदास हो गई. सिंह ने बताया कि फांसी जैसा जघन्य कदम उठाने से पहले उसने अपने घर के आंगन में बनी क्यारी में इस चूहे को दफनाया और पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि भी दी.

यह भी पढ़ें :  तहखाने में अजगर मिलने पर एक व्यक्ति ने क्या किया, जानेंगे तो हैरान हो जाएंगे...

उन्होंने बताया कि चूहे को दफनाने के बाद वह अपने कमरे में चली गई और जब बड़ी देर तक नहीं दिखी. इस पर उसकी मां उसे देखने के लिए कमरे में जाना चाहती थी, लेकिन उसने अंदर से चटकनी लगा रखी थी. जोर-जोर से आवाज देने पर भी जब कोई उत्तर नहीं मिला, तो उसने पड़ोसियों के साथ मिलकर दरवाजा तोड़ा और अंदर गई. लेकिन तब तक उसने दम तोड़ दिया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

VIDEO : पालतू जानवरों पर टैक्स से इनकार


बलजीत सिंह ने बताया कि चूहे के मरने के कुछ महीने पहले उसका पालतू कुत्ता भी मर गया था, तब भी वह काफी दिनों तक तनाव में रही थी.
(इनपुट भाषा से)