NDTV Khabar

पत्नी और प्रेमी के बीच में आया पति तो दी ये दर्दनाक सजा, काम पर निकला लेकिन...

बिहार के पूर्णिया जिला की एक अदालत ने सदर थाना क्षेत्र निवासी एक बिजली मिस्त्री की वर्ष 2017 में हुई हत्या के मामले में उनकी पत्नी व पत्नी के प्रेमी को सोमवार को आजीवन कारावास और 20-20 हजार रूपये अर्थदंड की सजा सुनायी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
पत्नी और प्रेमी के बीच में आया पति तो दी ये दर्दनाक सजा, काम पर निकला लेकिन...

पूर्णिया: पति की हत्या के मामले में पत्नी व उसके प्रेमी को उम्रकैद.

बिहार के पूर्णिया जिला की एक अदालत ने सदर थाना क्षेत्र निवासी एक बिजली मिस्त्री की वर्ष 2017 में हुई हत्या के मामले में उनकी पत्नी व पत्नी के प्रेमी को सोमवार को आजीवन कारावास और 20-20 हजार रूपये अर्थदंड की सजा सुनायी. अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश अखिलेश कुमार सिंह ने सोमवार को सदर थाना क्षेत्र निवासी बिजली मिस्त्री निरंजन मंडल की वर्ष 2017 में हुई हत्या के मामले में उनकी पत्नी ललिता देवी और ललिता के प्रेमी कुणाल किशोर भारती को भादवि की धारा 302 के तहत आजीवन कारावास और 20-20 हजार रूपये अर्थदंड तथा भादवि की धारा 201 के तहत 3 साल सश्रम कारावास एवं पांच-पांच रूपये आर्थिक दंड की सजा सुनाई.

...जब राजनाथ सिंह के सामने ही बिहार में प्रधानमंत्री किसान सम्मान योजना की खुल गई पोल! देखें VIDEO

 जुर्माने की रकम नहीं चुकाए जाने पर अभियुक्तों को 2 वर्ष अतिरिक्त सश्रम कारावास में बिताने होंगे. न्यायाधीश ने अभियुक्तों द्वारा जुर्माने की राशि जमा किए जाने पर उस राशि को बिजली विभाग में मिस्त्री के पद पर कार्यरत मृतक निरंजन मंडल के नाबालिग पुत्र व पुत्री को दिए जाने का आदेश दिया.


बिहार : नाबालिग लड़की से रेप मामले में शख्स को 10 साल की सजा और 25 हजार जुर्माना

टिप्पणियां

ललिता देवी ने सदर थाना में 11 सितंबर 17 को शिकायत दर्ज करायी थी कि उनके पति काम पर निकले थे पर घर लौटकर नहीं आए. पुलिस ने 13 सितंबर 2017 को निरंजन का शव गांव के ही एक झाड़ी से बरामद किया. 

(इनपुट-भाषा)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement