NDTV Khabar

सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित बच्‍चे ने जीता कुश्ती का मुकाबला, देखें ये शानदार Video

पहलावान बच्‍चे की मां ने फेसबुक पर मुकाबले की वीडियो शेयर करते हुए खेल की भावना का जिक्र किया है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित बच्‍चे ने जीता कुश्ती का मुकाबला, देखें ये शानदार Video

सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित पहलवान ने जीता कुश्ती का मुकाबला.

खास बातें

  1. Cerebral Palsy में संतुलन बना पाने में होती है परेशानी.
  2. पीड़ित पहलवान मैच के दौरान बार-बार अपना संतुलन गंवाकर भी हार नहीं मानता.
  3. मुकाबले के दौरान विरोधी पहलवान ने भी लिया समझदारी से काम.
नई दिल्ली:

खेल न सिर्फ खिलाड़ियों को जीत हासिल करने का गुर सिखाता है बल्कि एक-दूसरे के प्रति संवेदनशील कैसे रहा जाए ये भी सिखाता है. ऐसा ही संदेश देता कुश्ती के मुकाबले का एक वीडियो इंटरनेट पर वायरल हो रही है. इस वीडियो में सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित एक लड़का कुश्ती का मुकाबला लड़ रहा है और जीत हासिल करता है. बता दें कि सेरिब्रल पैल्सि (Cerebral Palsy) में रोगी को को इधर-उधर घूमने-फिरने और अपना संतुलन बना पाने में खासी दिक्कत का सामना करना पड़ता है. वीडियो में जब एक 14 साल का पहलवान जो कि सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित है अपने प्रतिद्वंदी का मुकाबला करता है तो दर्शक उसके साथ-साथ प्रतिद्वंदी खिलाड़ी को भी प्रोत्साहित करते हैं.

यह भी पढे़ं- WWE में रैंडी ऑर्टन को झुंड बनाकर पीट रहे थे एजे स्टाइल्स, फिर मुक्के मार-मारकर लिया बदला, देखें Video


इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह वीडियो सेरिब्रल पैल्सि से पीड़ित 14 वर्षीय पहलवान ल्युकस लैकिना और उसके प्रतिद्वंदी ऑस्टिन स्क्रैंटन के कुश्ती के मुकाबले की है. वीडियो में देखा जा सकता है कि ल्युकस मैच के दौरान बार-बार अपना संतुलन गंवाते हैं और फिर भी हार नहीं मानते और मुकाबला में बने रहते हैं. हालांकि इस दौरान ल्युकस का प्रतिद्वंदी ऑस्टिन बहुत समझदारी से स्थिति को संभालता है और ध्यान रखता है कि ल्युकस को ज्यादा दर्द न हो.

यह भी पढ़ें- गर्भ से ही बच्चों को संस्कारी बनाएगी यूपी की ये यूनिवर्सिटी, 6 महीने के कोर्स में गर्भवती महिलाओं को सिखाएंगे ये चीजें

टिप्पणियां

ल्युकस की मां ने फेसबुक पर मुकाबले की वीडियो शेयर करते हुए लिखा, "ल्युकस ने आज रात बहुत अच्छा प्रदर्शन किया. जिस लड़के से ल्युकस का मुकाबला था वह एनामोसा का है और बहुत अच्छा पहलवान है, उसका दिल बहुत बड़ा है और वह पूरे मैच के दौरान सब्र रखे रहा. उसने ल्युक्स के उन सभी दांव को चलने में मदद की जिसकी ल्युकस ने तैयारी की थी. मुझे सबसे अच्छी बात लगी जब उसने मैट के बाहर ल्युकस की मदद की. इसे ही सही मायनों में खेल की भावना कहते हैं." 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement