NDTV Khabar

बैंक के कर्ज से बचने के लिए चीनी महिला ने जो किया सुनकर हो जाएंगे हैरान

कर्ज से बचने के लिए एक महिला ने ऐसा काम किया जिसे सुनकर लोग दंग रह गए. हम आपको ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बैंक के कर्ज से बचने के लिए चीनी महिला ने जो किया सुनकर हो जाएंगे हैरान

महिला ने कर्ज से बचने के लिए प्लास्टिक सर्जरी करवा ली. (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. चीन के युआन शहर का मामला
  2. महिला पर था 3.71 मिलियन डॉलर का कर्ज
  3. पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद हुआ खुलासा
नई दिल्ली:

कर्ज से बचने के लिए एक महिला ने ऐसा काम किया जिसे सुनकर लोग दंग रह गए. हम आपको चीन की एक ऐसी महिला के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसने कर्ज से बचने के लिए ऐसा कदम उठाया, जिससे वहां के लोगों के साथ-साथ पुलिस भी हैरान रह गई. इस महिला पर 25 मिलियन युआन (3.71 मिलियन डॉलर) का कर्ज था. इससे बचने के लिए 59 साल की इस महिला ने अपनी प्‍लास्टिक सर्जरी करा ली. घटना वुहान शहर की है. 

यह भी पढ़ें:  वक्त के साथ ऐसे बदलता गया पॉप किंग माइकल जैक्सन का लुक

कोर्ट ने दिया था कर्ज चुकाने का आदेश
समाचार एजेंसी शिन्‍हुआ के अनुसार, एक स्‍थानीय अदालत ने महिला को कर्ज चुकाने का आदेश दिया था. इसके बाद वह वुहान छोड़कर शेंजेन शहर भाग गई और जब गिरफ्त में आई तो उसे देखकर सब चौंक गए. एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि हम सभी हैरान रह गए. 59 साल की यह महिला 30 साल की नजर आ रही थी. हमारे पास उसकी जो तस्वीर है उससे वह बिल्‍कुल अलग दिख रही थी.


यह भी पढ़ें:  डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मलैनिया की तरह दिखने की चाहत में यह महिला करवा रही है प्लास्टिक सर्जरी

वीडियो देखें : सेल्फी की सनक, सर्जरी से भी बाज नहीं आ रहे हैं लोग

टिप्पणियां

महिला ने फर्जी पहचान पत्र पर की यात्रा
महिला की पहचान हू नाजुआन के रूप में हुई है. गिरफ्तारी के बाद महिला ने स्वीकार किया कि उसने दूसरे लोगों के पहचान पत्रों का इस्‍तेमाल कर ट्रेन के जरिए देश भर में यात्रा करने की बात भी स्‍वीकार की है. महिला ने बैंक कार्ड्स का इस्‍तेमाल कर अपनी प्‍लास्टिक सर्जरी कराई थी. आपको बता दें कि चीन में इस तरह की चीजें चिंता का विषय बनी हुई हैं. बड़ी संख्‍या में लोग बैंक का कर्ज नहीं चुका रहे हैं. महिला जिस शहर की रहने वाली है, वहां भी कर्ज नहीं चुकाने वालों लोगों पर कार्रवाई को लेकर एक अभियान शुरू किया गया है. इसके तहत इस साल अब तक 186 लोगों को हिरासत में लिया जा चुका है.
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement