NDTV Khabar

सीएम रमन सिंह की 50 लाख की नई पजेरो, नंबर 0004 से चौथी बार बनेगी सरकार!

छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री के काफिले के लिए आठ करोड़ रुपये की 16 बुलेट प्रूफ पजेरो खरीदी गईं, कांग्रेस का आरोप- तांत्रिक के कहने पर गाड़ियों का नंबर 0004 रखा गया!

2.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सीएम रमन सिंह की 50 लाख की नई पजेरो, नंबर 0004 से चौथी बार बनेगी सरकार!

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह के काफिले के लिए 16 पजेरो कारें खरीदी गई हैं.

खास बातें

  1. प्रत्येक कार 30 लाख की, बुलेट प्रूफ बनाने पर 20 लाख रुपये खर्च हुए
  2. कांग्रेस ने कहा ज्योतिषी के कहने पर नंबर 4 रखा ताकि चौथी बार सरकार बने
  3. सभी 16 कारों का रजिस्ट्रेशन नंबर CG-02-AR-0004
भोपाल: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री रमन सिंह की नई सवारी पजेरो है. उनके काफिले में शामिल करने के लिए 16 नई बुलेट प्रूफ पजेरो गाड़ियां खरीदी गई हैं. एक पजेरो की कीमत  करीब 30 लाख है और इन्हें बुलेट प्रूफ बनाने के लिए अलग से 20 लाख खर्च करने पड़ते हैं. मतलब एक गाड़ी की कीमत करीब 50 लाख रुपये, यानी रमन सिंह अब आठ करोड़ रुपये के काफिले में चलेंगे.
     
रमन सिंह जब से सूबे के मुखिया बने तब से अब तक उनकी सवारी सफारी गाड़ी ही रही है. उनकी सभी गाड़ियां बुलेटप्रूफ तो थी हीं, सुरक्षा की दृष्टि से इन सभी गाड़ियों के नंबर भी एक ही थे. लेकिन अब इन पुरानी सफारी गाड़ियों की जगह चमचमाती पजेरो गाड़ियों ने ले ली है.

यह भी पढ़ें : सुप्रीम कोर्ट ने छत्‍तीसगढ़ सरकार से पूछा, ये फैसला किसने लिया कि अगस्‍ता हेलीकॉप्‍टर ही खरीदा जाएगा  
      
रमन सिंह के काफिले में शामिल इन सभी 16 गाड़ियों के नंबर भी एक ही हैं, CG-02-AR-0004. कांग्रेस का कहना है कि ज्योतिषी की सलाह पर गाड़ियों का नंबर 4 रखा गया ताकि राज्य में चौथी बार सरकार बन सके. कांग्रेस के प्रवक्ता विकास तिवारी ने कहा किसी ने बताया कि किसी तांत्रिक के कहने पर 0004 नंबर रखा गया, जो इनकी जीत के लिए अच्छा रहेगा. उन्होंने कहा कि जहां राज्य में सूखा पड़ा है, मनरेगा में मजदूरी नहीं मिल रही, वहीं प्रदेश के मुखिया किसी तांत्रिक के कहने पर गाड़ी खरीद रहे हैं. यह आश्चर्य की बात है.

VIDEO : खुले में शौच पूरी तरह बंद करने का वादा



हालांकि बीजेपी का कहना है कि इस बात में कोई सच्चाई नहीं है. पार्टी प्रवक्ता केदार गुप्ता ने कहा कि ''मैं इसको नहीं मानता कि 0004 की गाड़ी रखने से चौथी बार सरकार बनेगी, लेकिन ज्योतिष भारत का ज्ञान है. मैं इसे सही मानता हूं कि ज्योतिष का सही विश्लेषण हो. लेकिन 0004 से इसका संबंध हो, ऐसा नहीं लगता. 14 साल पुरानी गाड़ियां हैं. नई गाड़ी से समय और ईंधन की बचत होगी. यह सुरक्षा और समय की दृष्टि से भी अच्छा है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement