लॉकडाउन के दौरान सड़क पर खड़ा था सब्जी का ठेला, पंजाब पुलिस ने किया कुछ ऐसा, सीएम बोले- 'बहुत सही...' देखें Video

पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने अपने राज्य में पुलिस की प्रशंसा की, लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सड़क किनारे सब्जी का स्टॉल लगा था, जहां से पुलिस ने पूरी सब्जी खरीद ली और जरूरतमंदों को सब्जी बाट दी.

लॉकडाउन के दौरान सड़क पर खड़ा था सब्जी का ठेला, पंजाब पुलिस ने किया कुछ ऐसा, सीएम बोले- 'बहुत सही...' देखें Video

पंजाब के पुलिसवाले ने खरीद लिया पूरा सब्जी का ठेला, फिर किया कुछ ऐसा... देखें Viral Video

पंजाब (Punjab) के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह (Captain Amarinder Singh) ने अपने राज्य में पुलिस की प्रशंसा की, लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान सड़क किनारे सब्जी का स्टॉल लगा था, जहां से पुलिस ने पूरी सब्जी खरीद ली और जरूरतमंदों को सब्जी बाट दी. अमरिंदर सिंह ने वीडियो शेयर करते हुए पंजाब पुलिस की खूब तारीफ की है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 21 दिन का देश में लॉकडाउन का ऐलान किया है, ऐसे में लोगों की जरूरतों को लेकर पंजाब पुलिस आगे आई और जरूरतमंदों को सब्जियां बाटीं.

65 सेकंड के इस वीडियो में देखा जा सकता है कि दो पुलिस अफसरों ने सब्जी के स्टॉल से सारी सब्जियां खरीद लीं. उन्होंने टमाटर, प्याज, आलू और गोभी खरीदी. फिर सब्जी वाले को हैंड सैनेटाइजर से हाथ साफ कराया और उसको पैसे देकर गाड़ी में सब्जी भर दी, जिसके बाद वो उन जरूरतमंदों के पास पहुंचे जो बहुत गरीब थे और भूखे बैठे थे. उन्होंने उन महिलाओं और बच्चों के पास जाकर सब्जी बाटी. 

पंजाब के मुख्यमंत्री ने ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा, ''वेल डन पंजाब पुलिस.'' एक तरफ जहां पुलिस लोगों को घर में रहने का आग्रह कर रही है तो वहीं दूसरी तरफ बाहर फालतू घूम रहे लोगों पर डंडों से गुस्सा दिखा रही है. साथ ही पुलिस उन लोगों की भी मदद कर रही है जिनको खाने की बहुत जरूरत है.

देखें Video:

पंजाब में भी कोरोनावायरस तेजी से फैल रहा है. वहां अब तक 29 मामले सामने आए है और एक मौत दर्ज की गई है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई करने का आदेश दिया है और अन्य राज्यों की तरह ही नए दिशानिर्देश दिए हैं. 

पंजाब और केन्द्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ में बुधवार को कर्फ्यू के बावजूद लोग जरूरी सामान खरीदने के लिये बाहर निकले. लोगों ने दावा किया कि प्रशासन अपने वादे के अनुसार उन्हें घर पर जरूरी सामान मुहैया कराने में नाकाम रहा है. एक ओर जहां अधिकारियों ने सभी जिलों में घरों पर जरूरी सामान मुहैया कराने के लिये अलग-अलग समय तय कर रखा है, वहीं दूसरी ओर कई जगहों पर लोगों की शिकायत है कि उन्हें जरूरी सामान विशेषकर सब्जी, फल और किराने का सामान नहीं मिल रहा है.

कोई विकल्प ने बचने पर कुछ जगहों पर लोग जरूरी सामान खरीदने नजदीकी बाजारों और दुकानों में गए। इस दौरान दूध और दवा की दुकानों पर लंबी कतारें देखी गईं. पटियाला और बठिंडा में लोगों को आवश्यक वस्तुओं को खरीदने के लिए लंबी कतारों में देखा गया जबकि मोहाली में दुकानों के आगे लोग सामाजिक दूरी का अनुपालन करते हुए दिखे.

जिला प्रशासन ने अधिकतर स्थानों पर दूध घरों पर पहुंचाने के लिये सुबह छह से नौ बजे तक का समय तय कर रखा है. जबकि सुबह आठ बजे से 11 बजे तक सब्जी और दवाएं पहुंचाने का समय तय किया गया है.