लॉकडाउन में लोगों ने की आतिशबाजी तो गुस्से में अश्विन ने दिया ऐसा रिएक्शन, बोले- 'बड़ा सवाल ये है कि...'

धानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अपील पर रविवार यानि 5 अप्रैल रात 9 बजे 9 मिनट के लिए लोगों ने दिये जलाए. लेकिन कुछ लोग आतिशबाजी करते नजर आए. जिस पर गुस्से में रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने रिएक्शन दिया है.

लॉकडाउन में लोगों ने की आतिशबाजी तो गुस्से में अश्विन ने दिया ऐसा रिएक्शन, बोले- 'बड़ा सवाल ये है कि...'

पीएम मोदी ने दीये जलाने को कहा और लोगों ने कर दी आतिशबाजी, गुस्से में क्रिकेटर बोला

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की अपील पर रविवार यानि 5 अप्रैल रात 9 बजे 9 मिनट के लिए सभी लोगों ने घर की छत पर लाइट, दीए, मोमबत्ती जलाई. लेकिन इन सब के बीच में कुछ ऐसे भी लोग थे जो सड़क पर उतरकर पटाखे फोड़ने लगे. लॉकडाउन के दौरान लोगों का इस तरह के रवैये पर चिंता जताते हुए भारतीय क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन (Ravichandran Ashwin) ने ट्वीट (Tweet) किया. 

रविचंद्रन अश्विन ने लिखा, '''मैं इस बात से हैरान हूं कि लॉकडाउन में भी कौन पटाखे बेच रहा है? और सबसे बड़ा सवाल है कि कब पटाखों को खरीदा गया.'' सिर्फ इतना ही नहीं 22 मार्च को जनता कर्फ्यू के दौरान भी लोग सड़को पर निकलकर सोशल डिस्टेंसिंग के नियमों का उल्लंघन करते हुए नजर आए. इस पूरे मामले पर क्रिकेटर रविचंद्रन अश्विन ने बड़ा सवाल पूछा है.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अपील के बाद देशभर के लोगों ने रविवार रात 9 बजे कोरोनावायरस के खिलाफ एकजुटता दिखाई. लोगों ने इस दौरान घरों के लाइट बंद कर दिए और कैंडल और दीये जलाए. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू, पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, तेलंगाना के सीएम केसीआर, बाबा रामदेव, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पीएम मोदी की मां ने भी दीये जलाकर कोरोना के खिलाफ एकजुटता दिखाते नजर आए. इस दौरान देश के कई शहरों में दिवाली जैसा नजारा दिखा. बता दें कि लोगों ने दीये के साथ-साथ पटाखे भी जलाए. कई जगहों से पटाखों की आवाजें भी सुनाई पड़ीं. 

भारत में कोरोनावायरस का कहर रुक नहीं रहा है. मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है. स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से सोमवार सुबह जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक मरीजों की संख्या ने चार हजार का आंकड़ा पार कर लिया है. भारत में कोरोनावायरस से अबतक 109  लोगों की मौत हो चुकी है और 4067 इसके संक्रमण के शिकार हुए हैं. वहीं ठीक होने वाले मरीजों की संख्या 232 है. पिछले 24 घंटे की बात करें तो इस दौरान 32 लोगों की मौत हुई है और 693 नए मामले सामने आए हैं.