यह ख़बर 09 अप्रैल, 2014 को प्रकाशित हुई थी

सेवा से हटाया जा चुका आईएनएस विक्रांत 60 करोड़ रुपये में नीलाम

सेवा से हटाया जा चुका आईएनएस विक्रांत 60 करोड़ रुपये में नीलाम

मुंबई:

नौसेना की सेवा से हटाया जा चुका विमानवाहक पोत आईएनएस विक्रांत 60 करोड़ रुपये में बेच दिया गया है। इस पोत ने 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध में अहम भूमिका निभाई थी।

रक्षा सूत्रों ने बताया कि आईएनएस विक्रांत की नीलामी की प्रक्रिया पिछले हफ्ते पूरी हुई और आईबी कमर्शियल प्राइवेट लिमिटेड नाम की एक कंपनी ने सर्वाधिक बोली लगाई।

इससे पहले महाराष्ट्र सरकार ने विक्रांत का रखरखाव करने में अपनी अक्षमता जाहिर की थी। यह नौसेना का पहला विमानवाहक पोत है, जिसे 1961 में नौसेना बेड़े में शामिल किया गया था। इसे 1997 में सेवा से हटा दिया गया।

रक्षा सूत्रों ने बताया कि नीलामी की रकम अदा हो जाने के बाद कंपनी इस जहाज को नौसेना की गोदी से 30 दिनों के अंदर ले जा सकेगी, जहां फिलहाल इसने लंगर डाल रखा है।

सूत्रों ने बताया कि इस जहाज की हालत इतनी खराब है कि इसे संग्रहालय नहीं बनाया जा सकता। गोदी में इसके द्वारा खाली किए जाने वाले स्थान का इस्तेमाल नौसेना कुछ अन्य सार्थक उद्देश्यों के लिए करेगी।

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com