लॉकडाउन में घर नहीं लौट पाए माता-पिता, तो पुलिस ने बच्चों के लिए पुलिस स्टेशन में बना दिया स्कूल

दिल्ली (Delhi) के ग्रेटर कैलाश (Greater Kailash) में दो स्कूल जाने वाली लड़कियां और तीन अन्य बच्चों के माता-पिता लॉकडाउन (Lockdown) के कारण घर नहीं लौट पाए तो पुलिस बच्चों को पुलिस स्टेशन ले आई.

लॉकडाउन में घर नहीं लौट पाए माता-पिता, तो पुलिस ने बच्चों के लिए पुलिस स्टेशन में बना दिया स्कूल

लॉकडाउन में घर नहीं लौट पाए माता-पिता, तो पुलिस ने बच्चों के लिए पुलिस स्टेशन में बना दिया स्कूल

दिल्ली (Delhi) के ग्रेटर कैलाश (Greater Kailash) में दो स्कूल जाने वाली लड़कियां और तीन अन्य बच्चों के माता-पिता लॉकडाउन (Lockdown) के कारण घर नहीं लौट पाए तो पुलिस बच्चों को पुलिस स्टेशन ले आई. बच्चियां कैलाश कॉलोनी के एमसीडी आदर्श स्कूल में पढ़ाई करती हैं. लड़कियां कक्षा 1 और 4 वीं में पढ़ रही हैं. वहीं तीन बच्चे स्कूल में पढ़ाई नहीं करते हैं. बच्चों के लिए स्टाफ ने पुलिस स्टेशन में ही स्कूल बना दिया और वहां उनकी पढ़ाई चल रही है.

हेड कॉन्सटेबल तारा चंद और नीलम रोज उनको पढ़ाने आती हैं. दोनों उन्हें राइम्स, एल्फाबेट, रंग और बॉडी पार्ट्स की पढ़ाई करा रही हैं. 10 अप्रैल से बच्चों को रोज 1 घंटे पढ़ाई कराई जा रही है. शुरुआत में माता-पिता पुलिस को अपने बच्चों को पढ़ाने की अनुमति देने के लिए तैयार नहीं थे, लेकिन बाद में वो मान गए. 

k323pul8

वरिष्ठ अधिकारियों ने इसका पालन किया और बोर्ड, रंग पुस्तक और अन्य स्थिर सामग्री प्रदान की. इसकी शुरुआत 10 अप्रैल से हुई, जब पुलिस कॉलोनी की निगरानी के लिए पहुंची और जरूरतमंद लोगों को खाना दिया. तभी उनको बच्चों के बारे में पता चला और उनको वो ग्रेटर कैलाश पुलिस स्टेशन ले आई. उन्होंने बच्चों को खाना और मास्क भी प्रदान किए.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


पुलिस ने बच्चों को पढ़ाने का फैसला लिया, ताकी वो लॉकडाउन के दौरान भी पढ़ाई से जुड़े रहें और वक्त व्यतीत होता रहे. बढ़ती गर्मी के कारण पुलिस स्टाफ उनको 5 बजे से 6 बजे से पढ़ाता है.