NDTV Khabar

अगर ट्रैफिक पुलिस ने आपसे मांगी घूस तो होगा ऐसा...

मोटर वाहन कानून 1 सितंबर से लागू हो चुका है. ट्रैफिक चालान के दौरान घूसखोरी रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने बड़ा कदम उठाया है. अब घूस लेने या देने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अगर ट्रैफिक पुलिस ने आपसे मांगी घूस तो होगा ऐसा...

ट्रैफिक रूल्स तोड़ने के बाद अगर पुलिस ने मांगी घूस तो देना होगा डबल चालान.

मोटर वाहन कानून 1 सितंबर से लागू हो चुका है. ट्रैफिक चालान के दौरान घूसखोरी रोकने के लिए दिल्ली पुलिस ने बड़ा कदम उठाया है. अब घूस लेने या देने वालों को नहीं छोड़ा जाएगा. ट्रैफिक अधिकारियों को अब चालान करते हुए बॉडी कैमरा पहनना होगा. यही नहीं अगर पुलिसकर्मी ने चालक से घूस मांगी तो उस पर भी एक्शन लिया जाएगा. अगर कोई पुलिसकर्मी घूस मांगे तो उसे डबल चालान देना होगा.

Traffic Rule तोड़ा तो खैर नहीं... पुलिस के कपड़ों पर लगा होगा कैमरा, देना पड़ेगा पूरा चालान

ट्रैफिक पुलिस की ज्वाइंट कमिश्नर मीनू चौधरी ने सभी दिल्ली पुलिसकर्मियों को आदेश दिया है कि वो ट्रैफिक नियमों का पालन करें. अगर कोई पुलिसकर्मी नियम तोड़ता पाया गया तो उससे डबल जुर्माना वसूला जाएगा. उन्होंने कहा- अगर किसी भी रैंक का पुलिसकर्मी ड्यूटी के दौरान ट्रैफिक नियमों को तोड़ता पाया गया तो उससे डबल ज़ुर्माना वसूला जाएगा. 

चालान कटने के बाद शख्स ने NDTV से कहा- मैं 23 हजार देकर अपनी 15 हजार की स्कूटी जरूर छुड़ाऊंगा


नए मोटर व्हीकल एक्ट में सेक्शन 210B के तहत ऐसा प्रावधान है कि जिस अथॉरिटी पर इस नए मोटर व्हीकल एक्ट को लागू करने का अधिकार है अगर उससे जुड़ा कोई शख्स इसका उल्लंघन करते हुए पाया गया तो उससे किसी चालान का दोहरा जुर्माना वसूला जाएगा. 

टिप्पणियां

गुरुग्राम में वाहन चालक पर गिरी गाज, स्कूटी 15000 की; चालान कटा 23000 रुपये का!

सोमवार को ज्वाइंट कमिश्नर नरेंद्र सिंह बुंदेला ने कहा- 'यातायात नियम उल्लंघन करने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिए, अधिकारी बॉडी कैमरा पहनेंगे. उल्लंघन और चालान को रिकॉर्ड करने के लिए हम 626 बॉडी-वियर कैमरे का उपयोग कर रहे हैं.' नए नियम लागू होने के बाद अब ट्रैफिक पुलिस एक्शन में आ गई है. नियम तोड़ने वालों पर कार्यवाही कर रही है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... दिल्ली दंगों के मामले में जमानत छूटे लोगों की SIT ने लगाई क्लास, समझाया कि क्या है CAA और NRC?

Advertisement