Delhi Violence: टिकटॉक पर हुक्के से कश लगाता दिखा फायरिंग करने वाला शाहरुख, बनाए हैं ऐसे Video

Delhi Violence: उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के दौरान पुलिसवाले पर रिवॉल्‍वर तानने वाले शाहरुख (Shahrukh) को अदालत ने 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. वो सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहता है. टिकटॉक पर भी वो अपने वीडियो पोस्ट करता रहता है.

Delhi Violence: टिकटॉक पर हुक्के से कश लगाता दिखा फायरिंग करने वाला शाहरुख, बनाए हैं ऐसे Video

दिल्ली हिंसा में फायरिंग करने वाला Shahrukh बनाता है ऐसे टिकटॉक वीडियो

Delhi Violence: उत्तर पूर्वी दिल्ली में हिंसा के दौरान पुलिसवाले पर रिवॉल्‍वर तानने वाले शाहरुख (Shahrukh) को अदालत ने 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है. बता दें कि दिल्ली हिंसा के दौरान हेड कांस्टेबल दीपक दाहिया पर पिस्टल तानने वाले और दंगे के दौरान फायरिंग करने वाले शाहरुख को क्राइम ब्रांच ने उत्तर प्रदेश के शामली से गिरफ्तार किया था. शाहरुख की उम्र 27 साल है और वह सीलमपुर के चौहान बांगड़ का रहने वाला है. वो सोशल मीडिया पर भी काफी एक्टिव रहता है. टिकटॉक पर भी वो अपने वीडियो पोस्ट करता रहता है. कहीं वो हुक्के से कश लगाता दिख रहा है तो कहीं जिम में एक्सरसाइज करता दिख रहा है. टिकटॉक पर उसने ऐसे वीडियो पोस्ट किए हैं.

Delhi Violence: पुलिसवाले पर रिवॉल्‍वर तानने वाले शाहरुख को अदालत ने 4 दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा

Shahrukh टिकटॉक पर ऐसे वीडियो बनाता था...

♬ Bombay to Punjab Divine Rap - Sukhe

@sharukhkhan689

##sharukh khan today i am going to hard work..

♬ original sound - sumitsandhu30

@sharukhkhan689

##bhai ki bullet

♬ original sound - nitish2533

@sharukhkhan689

##desi_ chora

♬ original sound - sharukhkhan689

बताया जाता है कि शाहरुख को जिम जाने का शौक है. उसका कोई क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है. लेकिन शाहरुख के पिता पर ड्रग पैडलर होने का केस चल रहा है. उन पर कई केस दर्ज हैं. हाल ही में वो ज़मानत पर बाहर आये हैं. 

दिल्ली हिंसा के दौरान कांस्टेबल पर पिस्टल तानने और फायरिंग करने वाला शाहरुख शामली से गिरफ्तार

गौरतलब है कि दिल्ली के उत्तर-पूर्व इलाके में हुई हिंसा में दंगों में स्थानीय अपराधियों की बड़ी भूमिका रही है. ऐसे कई लोगों की पहचान भी की जा चुकी है और कई गिरफ्तार भी किये गए हैं. अपराधियों के यहां से अवैध हथियार और कारतूस भी बरामद हो रहे हैं जिनका जमकर इस्तेमाल हुआ. अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि 80 से ज्यादा लोग गोली लगने से घायल हुए हैं. हिंसा करने वाले ज्यादातर लोग उत्तरी पूर्वी दिल्ली के ही रहने वाले हैं.  अभी इन्हें पकड़ने के लिए छापेमारी चल रही है. 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com