NDTV Khabar

वीरान सड़क पर कुत्तों ने किया बच्चों पर अटैक, फिर... 24 घंटे में एक करोड़ से ज्यादा बार देखा गया वीडियो

वीडियो में दो बच्चे सड़क पर जा रहे थे, तभी कुत्तों ने उन्हें चारों-तरफ से घेर लिया. कुत्तों को देखते हुए बच्ची वहां से दौड़कर भाग गई. बच्चा वहां अकेले पड़ जाता है. वीडियो में साफ दिख रहा है कि बच्चा भी घबरा जाता है.

1498 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
वीरान सड़क पर कुत्तों ने किया बच्चों पर अटैक, फिर... 24 घंटे में एक करोड़ से ज्यादा बार देखा गया वीडियो

सीसीटीवी में कैद हुआ जब बच्चे ने कुत्तों को खदेड़ा.

खास बातें

  1. वीरान सड़क पर जा रहे थे दो बच्चे
  2. कुत्तों के झुंड ने बच्चों को घेरा
  3. बच्ची तो वहां से भाग गई, बच्चे ने कुत्तों से डंटकर मुकाबला किया
नई दिल्ली: बच्चे की बहादुरी का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. इस वीडियो में दो बच्चे सड़क पर जा रहे थे, तभी कुत्तों ने उन्हें चारों-तरफ से घेर लिया. कुत्तों को देखते हुए बच्ची वहां से दौड़कर भाग गई. बच्चा वहां अकेले पड़ जाता है. वीडियो में साफ दिख रहा है कि बच्चा भी घबरा जाता है. दो कुत्ते उसके सामने आकर जोर-जोर से भौंकने लगते हैं. वह अपने कदम पीछे हटाता है. एक बार वह भी वहां से भागने की कोशिश करता है. तभी पीछे से एक कुत्ता आता है और उसपर हमला करने की कोशिश करता है. चारों तरफ से मुश्किल में फंसने के बाद बच्चा हिम्मत जुटाता है. वह डंटकर वहीं खड़ा हो जाता है. इसके बाद बारी-बारी से सारे कुत्तों को वहां से भगा देता है. बच्चे का स्टाइल देखने लायक है. यह घटना सीसीटीवी में कैद हुई है.

बताया जा रहा है कि यह घटना हैदराबाद की है, हालांकि एनडीटीवी इसकी पुष्टि नहीं करता है. इस वीडियों को देखकर लोग बच्चे की बहादुरी की प्रशंसा कर रहे हैं. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म फेसबुक के अलावा यूट्यूब पर भी इस वीडियो को खूब देखा जा रहा है. 'मेरा बेटा इंजीनियर बनेगा' के फेसबुक पेज से शेयर किए गए इस वीडियो को 24 घंटे में एक करोड़ से ज्यादा बार देखा जा चुका है. 21901 लोगों ने इसे अपने पेज से शेयर किया है.





दोस्त की खातिर मगरमच्छ से भिड़ गई 6 साल की बच्ची

इसी साल अप्रैल में ओडिशा के केंद्रपारा जिले में एक छह साल की बच्ची ने बहादुरी का परिचय देते हुए दोस्त को बचाने के लिए मगरमच्छ से भिड़ गई. इस बच्ची की बहादुरी के सामने मगरमच्छ हार गया और वह अपनी दोस्त को बचाने में कामयाब हो गई. बहादुरी की मिसाल पेश करने वाली बच्ची का नाम टिकी है, वह दलाई बनकुआला गांव में पढ़ती है. फिलहाल वह पहली क्लास में पढ़ती है. मगरमच्छ से लड़ते हुए घायल हो गई इस बच्ची का इलाज सरकारी अस्पताल में चल रहा है. पीड़िता के हाथ और जांघ में कई जगह पर घाव है. फिलहाल वह खतरे से बाहर है. 

बताया जा रहा है कि दोनों बच्चियां मंगलवार को गांव के तलाब में नहाने गईं थीं. इसी दौरान तलाब में एक मगरमच्छ आ गया और उसने अचानक बसंती पर हमला कर दिया. हालांकि बसंती की दोस्त टिकी ने हिम्मत दिखाते हुए छड़ी से मगरमच्छ के सिर पर वार किया. अचानक हुए इस वार से मगरमच्छ हैरान रह गया और उसने बसंती को तुरंत छोड़ दिया. लड़की को छोड़ने के बाद मगरमच्छ वापस पानी में चला गया. 

वन विभाग ने दोनों बच्चियों को पुरस्कृत करने और उनके इलाज का खर्च उठाने का ऐलान किया है.  दोनों बच्चियों के बहादुरी के चर्चे पूरे इलाके में हो रहे हैं.
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement