NDTV Khabar

दो लड़कियों से गंदी बातें करता था ये लड़का, जज ने इस वजह से नहीं दी सजा

ब्रिटेन के रहने वाले 26 साल के ब्रायन एनथॉनी बॉवेन ने ऐसा काम किया है जिसके लिए हर सजा छोटी नजर आती है. लेकिन जज ने लड़के को देखकर ही छोड़ दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
दो लड़कियों से गंदी बातें करता था ये लड़का, जज ने इस वजह से नहीं दी सजा

ब्रायन एनथॉनी बोवेन 13 और 15 साल की दो लड़की से अश्लील बातें किया करता था.

खास बातें

  1. ब्रायन 13 और 15 की लड़की से करता था अश्लील बातें.
  2. जज ने बौने होने की वजह से नहीं भेजा जेल.
  3. रात 9 बजे से सुबह 7 बजे तक नजरबंद करने की सजा मिली.
नई दिल्ली: हम ऐसी डरावनी जगह में रहते हैं जहां रेप, मर्डर और उत्पीड़न की बातें तो आम बात हो गई है. बाल उत्पीड़न भी धीरे-धीरे फैलता जा रहा है. भारत में ही नहीं, हर जगह ऐसी घटनाएं होती रहती हैं. लेकिन एक केस ऐसा आया जिसने हर किसी को हैरान करके रख दिया. ब्रिटेन के रहने वाले 26 साल के ब्रायन एनथॉनी बॉवेन ने ऐसा काम किया है जिसके लिए हर सजा छोटी नजर आती है. लेकिन जज ने लड़के को देखकर ही छोड़ दिया. आइए जानते हैं क्या है मामला....

13 और 15 की लड़कियों से करता था अश्लील बातें
ब्रायन फेसबुक पर लड़कियों से अश्लील बातें किया करता था. कोई उसे ब्लॉग करता तो कोई नजरअंदाज कर देता. ब्रायन यहां भी नहीं रुका. उसने 13 और 15 साल की दो लड़कियों से अश्लील बातें किया करता था. जब लड़कियों ने इसे ब्लॉक करने की कोशिश की तो वो और गंदी-गंदी बातें करने लगा. जिसके बाद लड़कियों ने पुलिस के पास पहुंचीं.

पढ़ें- मनोहर पर्रिकर ने खोला राज, स्टूडेंट लाइफ में कैसे 'एडल्ट फिल्म' देखते हुए पकड़े गए थे​
 
fb

पुलिस के सामने रखी ये बात
न्यू यॉर्क पोस्ट के मताबिक शिकायत होने के बाद पुलिस ने जांच आगे बढ़ाई और ब्रायन को पकड़ा गया. ब्रायन ने पुलिस के सामने सफाई देते हुए कहा- मुझे लगा इन लड़कियों की उम्र 16 उम्र से ज्यादा है. लेकिन उसे यौन कृत्य करने के लिए बच्ची को उकसाने का दोषी ठहराया गया.

पढ़ें- पोर्न स्टार मिया खलीफा ने सोशल मीडिया पर डाली ऐसी फोटो, पूरी दुनिया में मचा बवाल

जिसके बाद ब्रायन को कोर्ट ले जाया गया. जहां उसे सजा सुनाई जानी थी. जज ने भी सख्ती दिखाते हुए कहा कि ब्रायन को जेल में काफी मुश्किल समय कटेगा और 48 हफ्ते की जेल की सजा सुनाते हुए रात 9 बजे से सुबह 7 बजे तक नजरबंद करने की सजा सुना दी.

जिसके बाद डिफेंस अटर्नी ने जज को आग्रह करते हुए बोला कि ब्रायन को जेल नहीं भेजा जाए क्योंकि वो बौना है. जिसके बाद उन्होंने जज को सेक्स अपराधियों के रजिस्टर में ब्रायन का नाम लिखने की सलाह दी. जिसके बाद जज ने उसका नाम 10 साल के लिए सेक्स अपराधियों के रजिस्टर में लिख दिया गया.

टिप्पणियां
पढ़ें- 'एडल्ट कंटेंट देखने के लिए मुफ्त वाईफाई का प्रयोग करते हैं 3 में से 1 भारतीय'

आपको बता दें, जिसका नाम इस रजिस्टर में शामिल होता है उसे किसी भी पार्क में जाने की आजादी नहीं होती और न ही किसी स्कूल, कॉलेज या किसी भी ऐसी जगह जहां ज्यादा लोग होते हैं वहां जाने की इजाजत नहीं होती है. यही नहीं उसे 3 महीने तक रात 9 बजे से लेकर सुबह 7 बजे तक नजरबंद भी किया जाएगा. देखा जाए तो ब्रिटेन में लॉ काफी सख्त हैं. लेकिन इस बार इस लड़के को जेल न भेजते हुए छोटी सी सजा सुना दी गई. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement