नफरत को बढ़ावा देने वाले 'खतरनाक व्यक्तियों' के साथ फेसबुक ने किया ऐसा काम

नफरत और कट्टरता को बढ़ावा देने वाले पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई को लेकर कई वर्ष तक दबाव में रहे सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने लुई फराखान, एलेक्स जोन्स और अन्य अतिवादियों को प्रतिबंधित कर दिया है.

नफरत को बढ़ावा देने वाले 'खतरनाक व्यक्तियों' के साथ फेसबुक ने किया ऐसा काम

नफरत और कट्टरता को बढ़ावा देने वाले पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई को लेकर कई वर्ष तक दबाव में रहे सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने लुई फराखान, एलेक्स जोन्स और अन्य अतिवादियों को प्रतिबंधित कर दिया है. फेसबुक का कहना है कि इन लोगों ने कंपनी के 'खतरनाक व्यक्तियों' पर इसके प्रतिबंध का उल्लंघन किया था. कंपनी ने जोन्स की साइट इन्फोवार्स के साथ-साथ दक्षिणपंथी विचारधारा वाले पॉल नेहलेन, मिलो यिआनोपूलस, पॉल जोसेफ वाटसन और लौरा लूमर को भी प्रतिबंधित किया, जो अक्सर षड्यंत्रकारी सिद्धांतों वाले पोस्ट करते थे.

'Fani' तूफान का कहर: उड़ गई AIIMS हॉस्टल की छत, देखें 4 सेकंड का हैरान करने वाला VIDEO

हालिया प्रतिबंध फेसबुक की मुख्य सेवा और इंस्टाग्राम दोनों पर लागू होंगे तथा इसके विस्तारित फैन पेज एवं अन्य संबंधित अकांउट पर भी लागू होंगे. फेसबुक ने यह कदम नफरत फैलाने और नस्लीय भावना को भड़काने वाली आपत्तिजनक सामग्री को बढ़ावा देने वाले समूहों एवं लोगों को हटाने के अपने प्रयासों के तहत उठाया है.

बेटी को जन्म देने के बाद न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री करने जा रही हैं बॉयफ्रेंड से शादी, ऐसे होती है बच्ची की परवरिश

सदर्न पॉवर्टी लॉ सेंटर के वरिष्ठ अनुसंधान विश्लेषक कीगन हैंक्स ने कहा, 'हमें मालूम है कि अब भी श्वेत यहूदीवादी और अन्य चरमपंथी मौजूद हैं जो नफरत फैलाने और कट्टरता को बढ़ावा देने के लिये दोनों मंचों का सक्रिय रूप से इस्तेमाल करते हैं.'

IPL 2019: आखिरी बॉल पर चाहिए था छक्का, हार्दिक पंड्या ने पांडे को कहा कुछ ऐसा, फैन्स हैरान, देखें VIDEO

फेसबुक के पूर्व अधिकारी और हार्वर्ड में इंटरनेट नीति विशेषज्ञ दीपायन घोष ने कहा कि यह प्रतिबंध कोई बड़ा कदम नहीं है क्योंकि फेसबुक बस इसे चित्रित करता प्रतीत हो रहा है और वह अपनी मौजूदा नीति को महज पुख्ता कर रहा है.

(इनपुट-भाषा)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com