NDTV Khabar

9 सालों से तहखाने में रह रहा था परिवार, वजह जानकर पुलिस के उड़े होश, कहा- समय खत्म होने का...

पुलिस को एक ऐसा परिवार मिला है जो एक सुनसान फॉर्महाउस के तहखाने में रह रहा था. इस परिवार में एक पिता और उसके 6 वयस्क बच्चे हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
9 सालों से तहखाने में रह रहा था परिवार, वजह जानकर पुलिस के उड़े होश, कहा- समय खत्म होने का...

प्रतीकात्मक तस्वीर

नई दिल्ली:

पुलिस को एक ऐसा परिवार मिला है जो एक सुनसान फॉर्महाउस के तहखाने में रह रहा था. इस परिवार में एक पिता और उसके 6 वयस्क बच्चे हैं. ये सभी 'समय के खत्म' होने का इंतजार कर रहे थे. डेली मेल के मुताबिक अधिकारियों को उत्तरी प्रांत ड्रेंटे के राउरोनॉल्ड गांव में एक फॉर्महाउस में जाने के बाद एक तहखाने के लिए जाने वालीं गुप्त सीढ़ी मिली. यहां उन्होंने देखा कि एक शख्स बेड पर लेटा था और उसके साथ 16 साल से 25 साल तक के 6 बच्चे मौजूद थे. उनमें से कई लोग जिन्हें मुक्त किया गया, उन्हें यह भी अंदाजा नहीं था कि बाकी लोग जीवित भी हैं. 

डच मीडिया का कहना है कि इस परिवार के बारे में तब पता लगा जब इस परिवार का 25 साल का एक लड़का पास के एक पब में गया और उसने 5 बियर पी लीं और फिर मदद की गुहार लगाने लगा. उसने कहा कि वह 9 सालों से बाहर नहीं निकला है. पुलिस ने इस मामले में 58 साल के एक शख्स को गिरफ्तार किया है जिसने जांच में सहयोग नहीं किया. 


नाखून कटवाते समय कुत्ते ने किया कुछ ऐसा कि वीडियो हो गया वायरल, अब उसकी एक्टिंग को मिल रही तारीफ

मामले को सबसे पहले कवर करने वाले आरटीवी के मुताबिक यह परिवार कई सालों से तहखाने में रह रहा था और समय के खत्म होने का इंतजार कर रहा था. वहीं पुलिस का कहना है कि इस मामले में सभी तरह की चीजें खुली हुई हैं. हमारी रिसर्च जारी है और हम इस समय कोई जानकारी शेयर नहीं कर सकते. 

लोकल मेयर रोगर डी ने कहा कि मैंने पहले कभी इस तरह से कुछ नहीं देखा. पुलिस ने इस मामले की जांच तब की जब किसी ने उन्हें इस बारे में जानकारी दी. वह एक पृथक जिंदगी जी रहे थे. कई बच्चों का नाम बर्थ रजिस्टर में नहीं था. 

बार के मालिक क्रिश वेस्टरबीक ने आरटीवी से कहा कि उन्होंने उस 25 साल के युवक से बात की जिसने उन्हें बताया कि भागकर आया है और उसे मदद की जरूरत है. उसके बाद बार के मालिक ने पुलिस को फोन किया. 

पति की लंबी उम्र के लिए अब जेल में बंद मुस्लिम महिलाएं भी रखेंगी करवा चौथ व्रत

बार के मालिक ने कहा कि जो शख्स मेरे पास आया था उसकी दाढ़ी बहुत गंदी थी और बाल मैले थे. वह नौ सालों से अंदर था और वह उस जीवन स्तर को खत्म करना चाहता था जिसमें उसका परिवार 9 सालों से जी रहा था. 

टिप्पणियां

मालिक ने बताया कि वह शख्स(25 साल का युवक) कभी स्कूल नहीं गया और बहुत भ्रमित लग रहा था. वह बिल्कुल बच्चों की तरह बोल रहा था. उसने ही बताया कि उसके भाई और बहन 16 से 25 साल के हैं. 

डच अखबार के मुताबिक उस 25 साल के लड़के ने बार के मालिक से मदद मांगी और वह अपनी इस बुरी स्थिति से बाहर आना चाहता था. वह लड़का रात में भागकर बार आया था क्योंकि दिन में उसके लिए तहखाने से बाहर निकलना नामुमकिन था.   
 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement