NDTV Khabar

क्यूबा में अब कनाडाई राजनयिक को भी बहरापन, विशेष तरह के उपकरण से हमले की आशंका

मिली जानकारी के मुताबिक क्यूबा में अमेरिकी दूतावास कर्मियों के बहरेपन की समस्या से पीड़ित होने के कारण हवाना छोड़कर जाने के बाद यहां एक कनाडाई राजनयिक को भी इसी प्रकार की समस्या होने की बात सामने आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
क्यूबा में अब कनाडाई राजनयिक को भी बहरापन, विशेष तरह के उपकरण से हमले की आशंका

प्रतीकात्मक फोटो

खास बातें

  1. श्रवण क्षमता की सीमा से तेज ध्वनि का किया गया इस्तेमाल
  2. अमेरिकी दूतावास कर्मियों को भी हुई थी शिकायत
  3. अमेरिका ने क्यूबा के दो राजनयिकों को दिया था निकाल
नई दिल्ली: क्यूबा में दूतावासों के अधिकारियों पर एक विशेष तरह के हमले का शक जताया जा रहा है जिसमें उनको बहरेपन की शिकायत हो रही है. मिली जानकारी के मुताबिक क्यूबा में अमेरिकी दूतावास कर्मियों के बहरेपन की समस्या से पीड़ित होने के कारण हवाना छोड़कर जाने के बाद यहां एक कनाडाई राजनयिक को भी इसी प्रकार की समस्या होने की बात सामने आई है. एक अधिकारी ने यहां बताया कि कनाडाई राजनयिक का उपचार चल रहा है. अमेरिकी अधिकारियों ने बताया कि उनके कर्मियों पर ध्वनि संबंधी उपकरण से हमला किया गया जिसमें श्रवण क्षमता की सीमा से तेज ध्वनि का इस्तेमाल किया गया. यह हमला हवाना में अमेरिकी अधिकारियों के आवासों के भीतर या बाहर किया गया. अधिकारियों ने बताया कि यह साफ नहीं है कि इसके लिए क्यूबा जिम्मेदार है या कोई अन्य देश. कनाडाई विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता ब्रियाने मैक्सवेल ने कल कहा, 'हम हवाना में कनाडाई और अमेरिकी राजनयिकों एवं उनके परिजन को प्रभावित करने वाले असामान्य लक्षणों के बारे में जानते हैं.' उन्होंने कहा, 'इसका कारण पता लगाने के लिए अमेरिकी और क्यूबाई प्राधिकारियों समेत सरकार सक्रिय रूप से काम कर रही है.' अमेरिका के विदेश मंत्रालय ने बुधवार को कहा था कि पहली बार इस प्रकार के लक्षण पिछले साल के अंत में देखे गए थे.

यह भी पढ़ें :  क्यूबा को लेकर ओबामा के कुछ फैसलों को बदल सकते हैं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीथर नोर्ट ने कहा, 'कुछ अमेरिकी अधिकारी क्यूबा के हवाना में हमारे दूतावास में काम कर रहे थे. कुछ ऐसी घटनाओं की सूचना मिली जिनके कारण उन्हें कई शारीरिक परेशानियां हुईं. हमारे पास इसके पीछे के कारण के बारे में कोई सटीक जवाब नहीं है.'  हीथर ने कहा कि इस घटना को लेकर मई में वाशिंगटन से दो क्यूबाई राजनयिकों को निष्कासित कर दिया गया था.

Video : मेरिकी एयरक्राफ्ट कैरियर यूएसएस निमित्ज पर पहुंचा NDTV
उन्होंने कहा, 'हमें कुछ अमेरिकियों को देश वापस बुलाना पड़ा और कुछ अमेरिकी इसके कारण स्वयं ही लौट आए.  इस कारण हमने अमेरिका में कार्यरत दो क्यूबाई अधिकारियों से वापस जाने को कहा, और वह लौट गये.'

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement