Budget
Hindi news home page

पर्यटकों को बनारसी खान पान के साथ सुबह-ए-बनारस का एहसास कराएगी गंगा क्वीन

ईमेल करें
टिप्पणियां
पर्यटकों को बनारसी खान पान के साथ सुबह-ए-बनारस का एहसास कराएगी गंगा क्वीन

गंगा क्वीन

बनारस: नए साल में गंगा की गोद में पर्यटकों के स्वागत के लिए गंगा क्वीन पूरी तरह सजधज के उतर गई है। यह गंगा क्वीन एक छोटे क्रूज़ की तरह है जिसमें पर्यटकों को पानी के जहाज में बैठने  का एहसास होगा साथ ही इसके अंदर की जो सजावट है वह बनारस के कला संस्कृति और ठेठ देशीपन का एहसास कराएगी।  इतना ही नहीं, जिस दादी मां के हाथ का स्वाद और परम्परागत तरीके से पकवान की जिस विधा को आप भूल चुके है या भागती दौड़ती जिंदगी में चाह कर भी जिसे आप अपने घर में नहीं बना पाते हैं वह लज़ीज भोजन आपको गंगा क्वीन में मिलेगा।
 

देसी खान पान के बीच इस क्रूज़ में बैठकर जब पर्यटक बनारस की उत्तर वाहिनी गंगा के किनारे बने अर्ध चन्द्राकार मुक्तासीय मंच जैसे चौरासी घाटों का भ्रमण करेंगे तो उन्हें सुबह-ए-बनारस का असल आनंद आएगा। साल के पहले दिन यह दिखा भी जब 50 से ज्यादा लोगों को लेकर यह गंगा क्वीन निकली तो उसमें बैठे लोग तो आनंद ले ही रहे थे लेकिन जो लोग गंगा में दूसरी नावों पर सवार थे वह भी इस क्वीन को देख कर बेहद रोमांचित हो रहे थे और इसकी फोटो खींच रहे थे। 

इस क्वीन के आने से बनारस के पर्यटन में एक बड़ा मुकाम हासिल होगा क्योंकि पहले गंगा घाट का आनंद सैलानी यहां आकर लेते थे फिर वो शहर में जाकर यहाँ के खान पान के ज़ायके का आनंद उठाते थे। लेकिन गंगा क्वीन के आ जाने से अब दोनों ही चीज़ों को लुत्फ एक ही साथ लिया जा सकेगा। इस गंगा क्वीन को गंगा में उतारने का काम बाटी चोखा रेस्टोरेंट ने किया है। इसमें पर्यटकों के लिए महिला पुरुष गाइड के साथ एयर होस्टेस की तर्ज़ पर वॉटर होस्टेस होंगी जो आपको खान पान सर्व करेंगी और आपकी सुविधा का ध्यान रखेंगी।


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement

 
 

Advertisement