NDTV Khabar

Google Doodle on Arecibo Message: 44 साल पहले धरती के बाहर भेजा गया था पहला रेडियो मैसेज, जानें सबकुछ

Google ने आज अरसीबो मेसेज (Arecibo message) का Google Doodle बनाया है. आज से 44 साल पहले इंसान ने धरती से बाहर तारों को पहला रेडियो मैसेज भेजा था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Google Doodle on Arecibo Message: 44 साल पहले धरती के बाहर भेजा गया था पहला रेडियो मैसेज, जानें सबकुछ

44th anniversary of Arecibo Message: Google ने आज अरसीबो मेसेज (Arecibo message) का Google Doodle बनाया है. आज से 44 साल पहले इंसान ने धरती से बाहर तारों को पहला रेडियो मैसेज भेजा था. इंसान की इस उपलब्धि को सम्मान देते हुए गूगल ने डूडल (Google Doodle On Arecibo Message) तैयार किया है. यह ब्रॉडकास्ट काफी शक्तिशाली था, लेकिन आज तक इसका रिस्पॉन्स (arecibo message reply) मैसेज नहीं मिला है. गूगल के मुताबिक, वैज्ञानिकों का समूह ने प्योर्तो रीको के जंगलों से पहली बार अपने ग्रह पृथ्वी के बाहर रेडियो मेसेज भेजा था. 

Happy Children's Day 2018: तैमूर अली खान से मीशा कपूर तक, क्यूटनेस में अव्वल हैं ये 10 Star Kids

3 मिनट के इस रेडियो मेसेज में 1,679 बाइनरी डिजिट्स था, जिन्हें एक ग्रिड यानी 23 कॉलम और 73 पंक्तियों में व्यवस्थित किया जा सकता था. नंबरों की इस सीरीज का लक्ष्य सितारों का वह समूह था, जोकि पृथ्वी से M-13, 25,000 प्रकाश साल की दूरी पर स्थित था.


टिप्पणियां

Happy Children's Day: गूगल ने Google Doodle बनाकर किया चाचा नेहरू को याद, जानें क्यों मनाया जाता है

ये ब्रॉडकास्ट काफी पॉवरफुल था क्योंकि अरसीबो को 305 मीटर ऊंचे एंटीना में लगाया गया था. गूगल के मुताबिक, चूंकि भेजा गया अरसीबो मैसेज अपने तय लक्ष्य तक पहुंचने में करीब 25 हजार साल का समय लेगा. ऐसे में रिस्पॉन्स मैसेज का इतंजार करना होगा. मैसेज वापस कब आएगा इसके बारे में कोई नहीं जानता है. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement