NDTV Khabar

अधिकारी ने खुद को बताया ‘कल्कि’ अवतार, कहा- तपस्या में लीन हूं, इसलिए ऑफिस नहीं आ सकता

गुजरात सरकार के एक अधिकारी ने दावा किया है कि वह भगवान विष्णु का दशम अवतार कल्कि है और वह कार्यालय नहीं आ सकता क्योंकि वह ‘‘ विश्व का अंत: करण ’’ बदलने के लिए ‘‘ तपस्या ’’ कर रहा है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
अधिकारी ने खुद को बताया ‘कल्कि’ अवतार, कहा- तपस्या में लीन हूं, इसलिए ऑफिस नहीं आ सकता

रमेशचंद्र फेफर (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. अधिकारी ने खुद को बताया ‘कल्कि’ अवतार
  2. कहा- तपस्या में लीन हूं, इसलिए ऑफिस नहीं आ सकता
  3. 'विश्व का अंत: करण बदलने के लिए तपस्या कर रहा हूं'
अहमदाबाद: गुजरात सरकार के एक अधिकारी ने दावा किया है कि वह भगवान विष्णु का दशम अवतार कल्कि है और वह कार्यालय नहीं आ सकता क्योंकि वह ‘‘ विश्व का अंत: करण ’’ बदलने के लिए ‘‘ तपस्या ’’ कर रहा है. सरदार सरोवर पुनर्वास एजेंसी के अधीक्षण अभियंता रमेश चंद्र फेफर ने कारण बताओ नोटिस का जवाब देते हुए कहा कि उसकी तपस्या को धन्यवाद, कि देश में अच्छी बारिश हो रही है. फेफर को जारी नोटिस और उसका विचित्र जवाब वायरल हो चुका है. राजकोट स्थित आवास पर आज मीडिया से फेफर ने कहा, ‘‘ आप विश्वास नहीं करेंगे लेकिन मैं वस्तुत: भगवान विष्णु का दशम अवतार हूं और आने वाले दिनों में मैं इसे साबित कर दूंगा. मैं मार्च 2010 में कार्यालय में था तो मैने महसूस किया कि मैं कल्कि अवतार हूं. तब से मेरे पास दिव्य शक्तियां हैं.’’ 

यह भी पढ़ें: महिला ने बंदर के नाम कर दी अपनी सारी संपत्ति, पीछे की वजह जान रह जाएंगे हैरान

तीन दिन पहले ऐजेंसी की तरफ से जारी कारण बताओ नोटिस के जवाब में उम्र के पांचवे दशक में पहुंच चुके फेफर ने कहा कि वह कार्यालय नहीं आ सकता है क्योंकि वह तपस्या में लीन है. दो पृष्ठ के जवाब में अधिकारी ने कहा है, ‘‘ मैं उम्र के पांचवे दशक में प्रवेश करने के साथ ही वैश्विक अंत: करण के बदलाव के लिए अपने घर में तपस्या कर रहा हूं. मैं ऑफिस में बैठ कर इस तरह की तपस्या नहीं कर सकता हूं.’’ अधिकारी ने दावा कि उसकी तपस्या के कारण ही भारत में पिछले 19 साल से अच्छी बारिश हो रही है. रमेश चंद्र ने कहा कि अब यह सरदार सरोवर पुनर्वास एजेंसी को तय करना चाहिए कि एजेंसी के लिए मुझे आफिस में बैठा कर समय पास करवाना महत्वपूर्ण है कि देश को सूखे से बचाने के लिए कुछ ठोस काम करना. 

टिप्पणियां
यह भी पढ़ें: इस जगह लड़कियों का पीछा करने और भद्दे कमेंट पर लगेगा 60 हजार रुपये का जुर्माना

अधिकारी ने दावा किया, ‘‘ क्योंकि मैं कल्कि अवतार हूं इसलिए भारत में अच्छी बारिश हो रही है.’’ नोटिस के अनुसार फेफर पिछले आठ महीने में वडोदरा स्थित अपने आफिस में केवल 16 दिन उपस्थित रहे हैं. सरदार सरोवर परियोजना से प्रभावित लोगों के पुनर्वास का काम सरदार सरोवर पुनर्वासवत एजेंसी देख रही है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement