NDTV Khabar

Guru Nanak Jayanti: Golden Temple ही नहीं, ये हैं भारत के 5 सबसे खूबसूरत गुरुद्वारे

Guru Nanak Jayanti कार्तिक पूर्णिमा के दिन धूमधाम से मनाई जाती है. गुरु नानक (Guru Nanak) का अवतरण संवत्‌ 1526 में कार्तिक पूर्णिमा (Kartik Purnima) के दिन हुआ था.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Guru Nanak Jayanti: Golden Temple ही नहीं, ये हैं भारत के 5 सबसे खूबसूरत गुरुद्वारे

Guru Nanak Jayanti: भारत के 5 सबसे खूबसूरत गुरुद्वारे

Guru Nanak Jayanti कार्तिक पूर्णिमा के दिन धूमधाम से मनाई जाती है. गुरु नानक (Guru Nanak) का अवतरण संवत्‌ 1526 में कार्तिक पूर्णिमा (Kartik Purnima) के दिन हुआ था. इस दिन को प्रकाश पर्व के रूप में भी मनाया जाता है. सभी लोग इस दिन गुरुद्वारे में जाकर गुरु नानक जयंती (Guru Nanak Birthday) को धूमधाम से मनाते हैं. भारत में कई ऐसे गुरुद्वारे हैं जो काफी खूबसूरत दिखते हैं. गुरु नानक जयंती (Guru Nanak Dev Ji) के मौके पर हम आपको बताने जा रहे हैं भारत के ऐसे 5 गुरुद्वारे जहां दर्शन करने के लिए लोग जाना पसंद करते हैं. गुरुद्वारे का अर्थ है-गुरु तक पहुंचने का द्वार या दरवाजा. गुरुद्वारे शांत होने के साथ-साथ काफी सुंदर भी होते हैं. भारत में कई ऐसे गुरुद्वारे हैं जो अपनी सुंदरता के लिए मशहूर है.  

अमृतसर का गुरुद्वारा हरमंदिर साहिब सिंह (Golden Temple)
अमृतसर का हरमंदिर साहिब सिंह गुरुद्वारा भारत में ही नहीं, बल्कि दुनिया में भी प्रसिद्ध है. इस गुरुद्वारे को गोल्डन टेम्पल भी कहा जाता है. इस गुरुद्वारे को भारत के मुख्य दर्शनिक स्थलों में गिना जाता है. मान्यता है कि इस गुरुद्वारे को बचाने के लिए महाराणा रणजीत सिंह जी ने सोने से ढंक दिया था. इसलिए हरमंदिर साहिब सिंह गुरुद्वारे को स्वर्ण मंदिर कहा जाने लगा. 
 

2h2qev8o

 

श्री हेमकुंट साहिब गुरुद्वारा
उत्तराखंड के चमोली जिले में श्री हेमकुंट साहिब गुरुद्वारा है. खास बात ये है कि ये गुरुद्वारा 4 हजार मीटर की ऊंचाई पर है. अक्टूबर से अप्रैल तक यहां बर्फबारी होती है. ऐसे में यात्रियों की सुरक्षा के लिए इस समय बंद कर दिया जाता है. यहां काफी लोग दर्शन करने के लिए पहुंचते हैं. यह दिखने में भी काफी खूबसूरत है.
 
vhopiut8

श्री हजूर साहिब अब्चालनगर साहिब गुरुद्वारा
श्री हजूर साहिब अब्चालनगर साहिब गुरुद्वारा का निर्माण महाराजा रणजीत सिंह ने 1832 में करवाया था. कहा जाता है कि इसी जगह गुरु गोबिंद सिंह ने अपनी आखिरी सांस ली थी. सिख धर्म में 5 तख्तों को बहुत ही महत्वपूर्ण माना जाता है. ये गुरुद्वारा उन्हीं 5 तख्तों में से एक है. महाराष्ट्र के नांदेड में ये गुरुद्वारा है. जो दिखने में काफी सुंदर है.
 
4idvc6a8

मणिकरण साहिब गुरुद्वारा 
मणिकरण साहिब गुरुद्वारा हिमाचल की पहाड़ियों के बीच बना हुआ है. यहां का नजारा बहुत ही सुंदर दिखाई देता है. मान्यता है यह वो पहली जगह है, जहां गुरु नानक देव जी ने अपनी यात्रा के दौरान ध्यान लगाया था. यहां एक तरफ गुरुद्वारा है और दूसरी तरफ भगवान शिव का प्रसिद्ध मंदिर है. जिसे एक पुल से जोड़ा गया है. 
 
sphimitg

श्री केश्घर साहिब गुरुद्वारा 
पंजाब के आनंदपुर शहर में श्री केश्घर साहिब गुरुद्वारा है. यह गुरुद्वारा सिख धर्म के खास 5 तख्तों में से एक है. सिखों के 9वें गुरू तेग बहादुर ने आनंदपुर शहर की स्थापना की थी. इसी शहर में ये गुरुद्वारा है. जो दिखने में काफी सुंदर है और यहां मत्था टेकने के लिए काफी लोग पहुंचते हैं.

टिप्पणियां

Guru Nanak Jayanti की अन्य खबरें- 

Guru Nanak Jayanti: कौन थे गुरु नानक देव जी? जानिए उनसे जुड़ी 10 बातें
Guru Nanak Jayanti 2018: गुरु पर्व पर इन Status और Messages से दें गुरु नानक जयंती की बधाई
Guru Nanak के ये 10 विचार बदल सकते हैं आपकी जिंदगी
Guru Nanak Jayanti 2018: कार्तिक पूर्णिमा के दिन मनाई जाती है गुरु नानक जयंती, जानिए गुरु पर्व के बारे में खास बातें
Guru Nanak Jayanti: जब लालची आदमी ने नहीं पिलाया गुरु नानक को पानी, फिर हुआ था येGuru Nanak Jayanti: गुरु पूरब पर भक्ति भाव से भरी गुरबानी, बार-बार सुनना चाहेंगे ये शबद कीर्तन- देखें Video



NDTV.in पर विधानसभा चुनाव 2019 (Assembly Elections 2019) के तहत हरियाणा (Haryana) एवं महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने जा रहे चुनाव से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें (Election News in Hindi), LIVE TV कवरेज, वीडियो, फोटो गैलरी तथा अन्य हिन्दी अपडेट (Hindi News) हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement