यहां 'वीरू' के साथ 'जय' भी पानी की टंकी पर चढ़ गया, जानें फिर क्या हुआ...

यहां 'वीरू' के साथ 'जय' भी पानी की टंकी पर चढ़ गया, जानें फिर क्या हुआ...

पंजाब के मुुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल (फाइल फोटो).

खास बातें

  • नियमित करने की मांग को लेकर दो शिक्षक पानी की टंकी पर चढ़े
  • मुख्यमंत्री से मुलाकात कराने का आश्वासन देने पर विरोध बंद किया
  • लापरवाही बरतने पर दो पुलिस कर्मियों को निलंबित किया गया
फतेहगढ़ साहिब (पंजाब):

पंजाब के बस्सी पठाना शहर में सोमवार को तब हड़कम्प मच गया जब 'वीरू' के साथ 'जय' भी पानी की टंकी पर चढ़ गया. हालांकि यहां यह कारनामा 'बसंती' के लिए नहीं बल्कि नौकरी में नियमित करने की मांग को लेकर किया गया.

बस्सी पठाना में सोमवार को फिल्म 'शोले' के वीरू (धर्मेन्द्र) के टंकी पर चढ़ने का दृश्य दिखाई दिया. खास बात यह थी कि टंकी पर चढ़कर मांग करने वाला एक नहीं बल्कि दो थे. बताया जाता है कि अपनी नौकरी के नियमितीकरण की मांग को लेकर बस्सी पठाना में सोमवार को दो शिक्षक पानी की टंकी के ऊपर चढ़ गए.

संगत दर्शन कार्यक्रम के आयोजन के लिए मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के यहां आने से पहले मोहाली से सरबजीत कौर और मनसा से सिमरजीत सिंह पानी की टंकी के ऊपर चढ़ गए थे. इस दौरान अन्य शिक्षक पानी की टंकी के पास प्रदर्शन कर रहे थे और सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

बहरहाल, फतेहगढ़ साहिब के एसपी दलजीत सिंह राणा और बस्सी पठाना के एसएचओ हरी चंद के मुख्यमंत्री के साथ उनकी बैठक कराने का आश्वासन दिए जाने के बाद इन शिक्षकों ने दिन में एक बजे अपना विरोध प्रदर्शन समाप्त कर दिया. बाद में शिक्षकों ने बादल से मुलाकात की जिन्होंने उनकी वाजिब मांगों को पूरा करने का आश्वासन दिया.

फतेहगढ़ साहिब के एसएसपी हरचरण सिंह भुल्लर ने कर्तव्य में लापरवाही बरतने के लिए दो पुलिस कर्मियों को निलंबित कर दिया.