IIT-Kharagpur के छात्र ने बनाया प्रदूषण पर लगाम लगाने वाला उपकरण, जानिए कैसे करेगा काम

आईआईटी खड़गपुर के स्नातक ने एक ऐसा उपकरण बनाने का दावा किया कि जिसे जब वाहनों के साइलेंसर पाइप के पास फिट किया जाएगा तो वह वायु प्रदूषण पर लगाम लगाएगा.

IIT-Kharagpur के छात्र ने बनाया प्रदूषण पर लगाम लगाने वाला उपकरण, जानिए कैसे करेगा काम

आईआईटी खड़गपुर के छात्र ने प्रदूषण पर लगाम लगाने वाला उपकरण बनाया.

आईआईटी खड़गपुर के स्नातक ने एक ऐसा उपकरण बनाने का दावा किया कि जिसे जब वाहनों के साइलेंसर पाइप के पास फिट किया जाएगा तो वह वायु प्रदूषण पर लगाम लगाएगा. छात्र ने इसे ‘‘पीएम 2.5'' नाम दिया है. आईआईटी खड़गपुर के मैकेनिकल इंजीनियरिंग स्नातक देवयान साहा ने दावा किया कि इस उपकरण को जब कार में लगाया जाएगा तो यह अपने आसपास 10 कारों से निकलने वाले प्रदूषण के असर को खत्म कर सकता है.

ये भी पढ़ें: Maharashtra Assembly Election 2019: सचिन तेंदुलकर ने अनोखे अंदाज में की Vote करने की अपील, बोले- 'आज मैंने...'

एम्स में शोधार्थी रहे साहा ने कहा, ‘‘हमारे द्वारा विकसित की गई तकनीक में इलेक्ट्रिक ऊर्जा और तरंग ऊर्जा का इस्तेमाल कर पीएम 2.5 जैसे प्रदूषकों को इस हद तक प्रभावित किया जाता है कि वे वातावरण से अन्य प्रदूषक कणों को आकर्षित करने वाले चुम्बक की तरह काम करते हैं। जैसे ही उनका आकार बड़ा होता है तो वे भारी हो जाते हैं और मिट्टी की तरह जमीन पर सुरक्षित गिर जाते हैं.''

Newsbeep

ये भी पढ़ें: नदी में तैर रहा था कंगारू, पुलिसवालों ने निकाला बाहर तो फिर कूद गया पानी में... देखें VIDEO

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा कि प्रदूषण की समस्या का गहरायी से अध्ययन करने के बाद उन्होंने पाया कि असली कसूरवार पीएम 2.5 नहीं है बल्कि उसका सूक्ष्म आकार है जिसके कारण वह हमारे फेफड़ों और खून में आसानी से घुस जाता है. साहा अपने उत्पाद का वाणिज्यिक दृष्टि से उपयोग करने के लिए विभिन्न संगठनों से बातचीत कर रहे हैं.



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)