NDTV Khabar

इंडोनेशिया में भूकंप से तबाही के बाद ज्वालामुखी का कहर, देखें खौफनाक VIDEO

इंडोनेशिया के भूकंप एवं सुनामी प्रभावित सुलावेसी द्वीप पर स्थित माउंट सोपुतान ज्वालामुखी बुधवार को फट गया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
इंडोनेशिया में भूकंप से तबाही के बाद ज्वालामुखी का कहर, देखें खौफनाक VIDEO

Indonesia में भूकंप और सुनामी के बाद फटा ज्वालामुखी.

Indonesia, Jakarta: इंडोनेशिया के भूकंप एवं सुनामी प्रभावित सुलावेसी द्वीप पर स्थित माउंट सोपुतान ज्वालामुखी बुधवार को फट गया और इससे निकले लावा का गुबार हवा में 4,000 मीटर तक फैल गया. राज्य आपदा एजेंसी ने लोगों से ज्वालामुखी से कम से कम चार किलोमीटर दूर रहने को कहा है. इसने कहा कि लोगों को फिलहाल वहां से निकालने की आवश्यकता नहीं है. सोपुतान ज्वालामुखी पालु शहर से करीब 1,000 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है. पालु में 7.5 तीव्रता वाले भूकंप के कारण सुनामी आ गयी थी, जिसमें कम से कम 1,400 लोग मारे गये. सोशल मीडिया पर ज्वालामुखी का वीडियो काफी वायरल हो रहा है. 

वैज्ञानिकों ने बताया, इंडोनेशिया में सुनामी ने क्यों मचाई थी भयंकर तबाही
 


इंडोनेशिया में मलबे में से जीवित लोगों के निकलने की उम्मीद भी घटती जा रही है. संयुक्त राष्ट्र ने कहा है कि पूरी नहीं हो पा रही जरूरतों की सूची बहुत लंबी है. राष्ट्रीय आपदा एजेंसी के प्रवक्ता सुतोपो पूर्वो नुग्रोहो ने कहा कि बर्बाद हुए पालू शहर के आस-पास के चार इलाकों में मृतकों की संख्या 1,407 तक पहुंच गई है और 519 शवों को दफनाया जा चुका है.

सरकारी बचाव कर्मी पूरी तरह बर्बाद हुए पालू शहर के आधा दर्जन प्रमुख स्थानों पर ध्यान केंद्रित कर रहे हैं. इनमें होटल रोआ-रोआ भी शामिल है जहां अब भी 60 लोगों के दबे होने की आशंका है. एक शॉपिंग मॉल, एक रेस्तरां और बालारोआ इलाके भी इनमें शामिल हैं.


टिप्पणियां

इंडोनशिया में तेज भूकंप के बाद सुनामी, भारी तबाही के आसार

सुनामी से प्रभावित इंडोनेशिया की मदद के लिए भारत ने ऑपरेशन ‘समुद्र मैत्री’ शुरू किया
इंडोनेशिया में भूकंप और सुनामी पीड़ितों की सहायता के लिए भारत ने व्यापक अभियान शुरू करते हुए दो विमान और नौसेना के तीन पोत भेजे हैं जिनमें राहत सामग्री लदी है. विदेश मंत्रालय ने बुधवार को एक बयान में यह जानकारी दी. मंत्रालय ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इंडोनेशियाई राष्ट्रपति जोको विडोडो के बीच एक अक्टूबर को टेलीफोन पर हुई बातचीत तथा इंडोनेशिया द्वारा अंतरराष्ट्रीय सहायता स्वीकार किए जाने के बाद भारत ने ऑपरेशन ‘समुद्र मैत्री’ शुरू किया. 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement