NDTV Khabar

इजरायली नर्स ने फिलिस्तीनी बच्चे को कराया स्तनपान, पूरी दुनिया है हैरान

सड़क दुर्घटना में फिलिस्तीनी महिला बुरी तरीके से घायल हो गई थी और उसके पति की मौत हो गई थी. महिला को इजरायल के करीम अस्पताल में भर्ती कराया है. उसके बच्चे को भूख के मारे बिलखता देख इजरायली नर्स का कलेजा पसीज गया. उसने बच्चे को गोद में उठाया और स्तनपान कराने लगी. इंसानियत की मिसाल पेश करने वाली यहूदी नर्स का नाम उला ओस्‍ट्रोवस्‍की-जक है.

23.1K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इजरायली नर्स ने फिलिस्तीनी बच्चे को कराया स्तनपान, पूरी दुनिया है हैरान

फिलिस्तीन नवजात को स्तनपान कराती इजरायली नर्स.

खास बातें

  1. इजरायल की नर्स ने पेश की मानवता की मिसाल
  2. घायल फिलिस्तीनी महिला के बच्चे को अपने स्तन से पिलाया दूध
  3. इजरायल और फिलिस्तीन में लंबे समय से चल रहा है युद्ध
नई दिल्ली: पूरी दुनिया जानती है कि इजरायल और फिलिस्तीन के बीच किस हद तक दुश्मनी हैं. दोनों देश एक-दूसरे को नुकसान पहुंचाने का एक भी मौका नहीं गंवाते हैं, लेकिन इस बार एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसे जानकर लोग हैरत जताने के साथ भावुक हो रहे हैं. दरअसल, इन दिनों सोशल मीडिया पर कुछ तस्वीरें और वीडियो वायरल हो रही हैं, जिसमें इजरायली की एक नर्स फिलिस्तीनी महिला की कोख से पैदा हुए नवजात को स्तनपान करा रही है. मानवता की मिसाल पेश करती इस तस्वीर की दुनिया भर में चर्चा हो रही है. जिस किसी की भी इसपर नजर पड़ रही है वह हैरानी के जताने के साथ यह भी लिख रहे हैं, 'दुनिया में इंसानियत से बढ़कर कुछ भी नहीं है, सदैव इसकी जीत होती है.'

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक सड़क दुर्घटना में फिलिस्तीनी महिला बुरी तरीके से घायल हो गई थी और उसके पति की मौत हो गई थी. महिला को इजरायल के करीम अस्पताल में भर्ती कराया है. उसके बच्चे को भूख के मारे बिलखता देख इजरायली नर्स का कलेजा पसीज गया. उसने बच्चे को गोद में उठाया और स्तनपान कराने लगी. इंसानियत की मिसाल पेश करने वाली यहूदी नर्स का नाम उला ओस्‍ट्रोवस्‍की-जक है. 

इजरायली नर्स ने पहले करीब सात घंटे तक बच्चे को बोतल से दूध पिलाने की कोशिश की, लेकिन उसने रोना बंद नहीं किया. इसके बाद उसने स्तनपान कराने का फैसला लिया. 

नर्स ने कहा, 'उसकी (बच्‍चे की) मौसी बेहद हैरान थी कि एक यहूदी कैसे दूध पिलाने को तैयार हो गई, मगर मैंने उनसे कहा कि हर मां यही करेगी।' अपनी शिफ्ट के दौरान नर्स ने नवजात को पांच बार स्‍तनपान कराया और जब परिवार इस बात को लेकर चिंतित था कि नर्स के जाने के बाद क्‍या होगा, तो उला ने उसका भी बंदोबस्‍त किया। नर्स ने एक फेसबुक ग्रुप पर पोस्ट लिखी, जिसपर हजारों जवाब आए और कई महिलाओं ने आकर बच्‍चे को खिलाने के लिए कॉल किया। यह तस्‍वीर सोशल मीडिया पर हजारों बार शेयर की गई है।

मालूम हो कि इजरायल की स्थापना 1948 में हुई थी। इससे पहले इजरायल देश का कोई अस्तित्व नहीं था। यहां मूल रूप से फिलिस्तीनी निवास करते थे। 1947 में संयुक्त राष्ट्र की जनरल एसेंबली ने अंतरराष्ट्रीय देख-रेख में फिलिस्तीन को एक स्वायत्त येरुशलम के साथ यहूदी स्टेट और अरब स्टेट में बांटने के लिए वोट दिया था, जिसके बाद इसकी स्थापना हुई। पिछले 60 साल से दोनों देशों के बीच इसी वजह से लगातार झगड़े होते आ रहे हैं.

 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement