मोबाइल के MAP ने दिया धोखा, कहा- सीधे चलो और कुदा दिया नदी में

कभी तकनीक भी साथ नहीं दे पाती. एक शख्स बिना सोचे समझे जीपीएस के जरिए एसयूवी का दौड़ा रहा था. जीपीएस की मानते हुए जैसे ही उसने कार आगे बढ़ाई तो नदी में कार चली गई.

मोबाइल के MAP ने दिया धोखा, कहा- सीधे चलो और कुदा दिया नदी में

जीपीएस की वजह से कार सड़क से उतरकर नदी पर चली गई.

खास बातें

  • जीपीएस की वजह से सड़क से उतरकर कार गिरी नदी में.
  • कार में बैठे किसी व्यक्ति ने शराब या ड्रग्स नहीं लिए थे.
  • गूगल के वेज ऐप ठीक रास्ता नहीं बता पाया.
नई दिल्ली:

कभी तकनीक भी साथ नहीं दे पाती. एक शख्स बिना सोचे समझे जीपीएस के जरिए एसयूवी का दौड़ा रहा था. जीपीएस की मानते हुए जैसे ही उसने कार आगे बढ़ाई तो नदी में कार चली गई. नॉर्थईस्ट स्टेट ऑफ वरमॉन्ट की लोकल पुलिस ने ये जानकारी दी. बाहरी शहर के कुछ लोग उधार के कार लेकर जा रही थे. उन्ही के साथ ये हादसा 12 जनवरी को हुआ. ड्राइवर ने जब जीपीएस की मदद से गाड़ी दौड़ा रहा था तो जीपीएस ने उसे सीधे जाने के लिए कहा, लेकिन जैसे कार को सीधे बढ़ाया तो बर्फ से जमी नदी में जा गिरी. 

दो बाघों के बीच फंस गए बाइक सवार, वीड‍ियो देखकर खड़े हो जाएंगे रोंगटे

रिपोर्ट लिखने वाले ऑफिसर ने बताया कि कार में बैठे किसी व्यक्ति ने शराब या ड्रग्स नहीं लिए थे. कार के बम्पर की वजह से नदी में उसको देखा गया. उन्होंने बताया कि जब ये हादसा हुआ उस वक्त तेज बारिश और काफी कोहरा था. वहीं कार के मालिक तारा ग्वेरटिन का कहना है कि मैं निशब्द हूं, कुछ नहीं कह सकता. मेरे ख्याल में सबसे पहले यही आया कि सभी लोग ठीक हैं या नहीं. जब उन्हें पता चला कि सभी लोग ठीक हैं तो उन्होंने राहत की सांस ली.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

India Republic Day: आजादी के आंदोलन में इंटरनेट: महात्मा गांधी यूं देते Whatsapp पर संदेश

गूगल के वेज ऐप ठीक रास्ता नहीं बता पाया. इसलिए गाड़ी नदी में उतर गई. गूगल के स्पोकपर्सन जूली मोस्लर ने बताया- 'वेज मेप रोज लाखों एडिट्स के बाद रोज अपडेट होता है. उसके पास हर चीज की जानकारी होती है.' मोस्लर ने ड्राइवरों को सलाह दी कि वो हमेशा सड़क पर निगाहें लगाकर चलाएं और मौसम की जानकारी लेते रहें. ताकी आप ड्राइव संभल कर करें.