घर में घुसकर खाना चुरा लेते हैं बंदर, लोग बोले- 'उसे बनाएंगे पार्षद, जो बंदरों का आतंक खत्म करेगा...'

वायनाड (Wayanad) के कलपेट्टा नगर पालिका (Kalpetta Municipality) के हरितागिरी रेजिडेंट्स एसोसिएशन ने रविवार को फैसला किया कि वे केवल उस पार्टी को वोट देंगे जो नगरपालिका में बंदरों द्वारा उत्पन्न समस्याओं का स्थायी समाधान करेगी.

घर में घुसकर खाना चुरा लेते हैं बंदर, लोग बोले- 'उसे बनाएंगे पार्षद, जो बंदरों का आतंक खत्म करेगा...'

घर में घुसकर खाना चुरा लेते हैं बंदर, लोग बोले- 'उसे देंगे वोट, जो करेगा बंदरों का आतंक खत्म...'

वायनाड (Wayanad) के कोने-कोने में नगरपालिका चुनावों के साथ, कलपेट्टा नगर पालिका (Kalpetta Municipality) के हरितागिरी रेजिडेंट्स एसोसिएशन (Harithagiri Residents Association) ने रविवार को फैसला किया कि वे केवल उस पार्टी को वोट देंगे जो नगरपालिका में बंदरों द्वारा उत्पन्न समस्याओं का स्थायी समाधान करेगी. कालपेट्टा नगर पालिका में रहने वाले लोगों के लिए बंदरों ने एक विशाल खतरा पैदा कर दिया है.

कलपेट्टा में एक स्थानीय व्यक्ति ने कहा: ''मैं एक 62 वर्षीय महिला हूं. मैं नियमित रूप से कई वर्षों अपना वोट डाल रही हूं. लेकिन इस बार, मैंने केवल उसे वोट करने का फैसला किया है, जो बंदरों का आतंक खत्म करने का वादा करेगा. इस क्षेत्र के बंदर मेरे घर की छत से टाइल्स को हटाते हैं, मेरी रसोई में प्रवेश करते हैं और सभी भोजन चोरी करते हैं. उनके डर से, मेरे परिवार ने बेडरूम में पकाया खाना रखना शुरू कर दिया है.''

वह आगे शिकायत करती है कि आज तक किसी भी शासी निकाय ने बंदर की समस्या के खिलाफ कोई ठोस कार्रवाई नहीं की है.

Newsbeep

हरीथागिरी रेजिडेंट्स एसोसिएशन ने राजनीतिक दलों के पोस्टरों के ठीक सामने बैनर लगा दिए हैं, जिससे उम्मीदवारों को वोट जीतने के लिए बंदर खतरे का सामना करने की समस्या का समाधान करने का आग्रह किया गया है. क्षेत्र के घरों में पत्र पहुंचाने वाले डाकिया राकेश ने कहा कि रोजाना उन्हें रास्ते में बंदरों के बीच से गुजरना पड़ता है. कई बार, बंदरों ने सीधा हमला किया था.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


उन्होंने कहा, 'हर बार जब मैं किसी घर में जाता हूं, तो बंदर परेशान कर देते हैं. लोग वास्तव में इस क्षेत्र में बंदरों से तंग आ चुके हैं.'