NDTV Khabar

यहां गंडासे से किया जाता है मसाज, पूरी प्रक्रिया देखकर रह जाएंगे हैरान

चेहरे की भी मसाज गंडासे से ही की जाती है. इस मसाज में दो गड़ासों का प्रयोग किया जाता है. एक ऐसा ही मसाज सेंटर चलाने वाले फांग का कहना है कि ये स्‍पेशल थेरेपी देने के लिये साधारण किचेन नाइफ का प्रयोग नहीं किया जाता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
यहां गंडासे से किया जाता है मसाज, पूरी प्रक्रिया देखकर रह जाएंगे हैरान

ताइवान में गढ़ासे से किया जाता है मसाज.

खास बातें

  1. ताइवान में मसाज का अनोखा तरीका
  2. गढ़ासे से किया जाता है मसाज
  3. 2500 पुरानी परंपरा अचानक से चलन में आया
नई दिल्ली: आपने तेल, क्रीम पपीता, खीरा, लौकी आदि से मसाज तो कराया होगा, लेकिन ताइवान में अनोखा तरीका अपनाया जाता है. यहां गंडासे (बड़ा चाकू) से मसाज किया जाता है. ताइवान की राजधानी ताइपे में ऐसी कई जगह हैं जहां गंडासे से मसाज किया जाता है. गंडासे को केमिकल से साफ किया जाता है. फिर इससे शरीर के अलग-अलग हिस्सों में इससे हल्का प्रहार किया जाता है. प्रहार के वक्त शरीर उस हिस्से पर कपड़ा ढक दिया जाता है.. स्काई न्यूज मुताबिक पिछले कुछ दिनों से गंडासे से मसाज का चलन काफी तेसी से बढ़ रहा है. ताइवान में 2500 साल से गंडासे से मसाज करने की परंपरा रही है. 

चेहरे की भी मसाज गड़ासे से ही की जाती है. इस मसाज में दो गड़ासों का प्रयोग किया जाता है. एक ऐसा ही मसाज सेंटर चलाने वाले फांग का कहना है कि ये स्‍पेशल थेरेपी देने के लिये साधारण किचेन नाइफ का प्रयोग नहीं किया जाता है. हम जिस नाइफ का प्रयोग करते हैं वो स्‍पेशल मसाज देने के लिये ही तैयार किये जाते हैं. 

टिप्पणियां

गंडासे से मसाज का लाभ उठा चुके एक युवक ने बताया कि जब वह पहली बार मसाज सेंटर पहुंचा तो वहां गंडासे को देखकर घबरा गया था. उसने बताया कि इससे पहले उसने गंडासे से मीट और सब्जी को काटने के इस्तेमाल में देखा था. गंडासे से मसाज करते देखना बिल्कुल नया अनुभव रहा.

ऐसी ही रोचक 'ज़रा हटके' ख़बरें और भी पढ़ें...


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement