NDTV Khabar

Guinness World Records 2020: भारत के 80 कारनामे, किसी के सबसे लंबे बाल तो किसी के नाखून लंबे

गिनीज विश्व रिकार्ड नये संस्करण में भारत के कुल 80 कारनामें शामिल हैं जिनमें एक किशोरी के सबसे लंबे बाल, सबसे बौनी जीवित महिला और कागज के कप का सबसे बड़ा कलेक्शन शामिल है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Guinness World Records 2020: भारत के 80 कारनामे, किसी के सबसे लंबे बाल तो किसी के नाखून लंबे

गिनीज बुक में भारत के 80 कारनामे.

गिनीज विश्व रिकार्ड नये संस्करण में भारत के कुल 80 कारनामें शामिल हैं जिनमें एक किशोरी के सबसे लंबे बाल, सबसे बौनी जीवित महिला और कागज के कप का सबसे बड़ा कलेक्शन शामिल है. इसके प्रकाशक पेंगुइन रैंडम हाउस ने गुरूवार को इसकी घोषणा की है. ‘गिनीज विश्व रिकार्ड 2020' पुस्तक में हजारों नये रिकार्ड शामिल हैं जिससे सभी आयु वर्ग के पाठकों का ज्ञानवर्द्धन एवं मनोरंजन होगा.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र में कौन बनेगा मुख्यमंत्री? किसान ने गर्वनर को लिखी चिट्ठी, बोला- मुझे बना दो CM

इस रिकार्ड बुक में भारत की 16 साल की निलांशी पटेल का नाम शामिल है जिसके बालों की लंबाई पांच फुट सात इंच है. दूसरी ओर नागपुर की ज्योति अमागे की लंबाई 24.7 ईंच है और उनके नाम सबसे छोटी (बौनी) महिला होने का रिकार्ड दर्ज है.

ये भी पढ़ें: पंजाब में शख्स ने बाइक को बना दिया कार, लोग बोले- 'इसे कहते हैं देसी जुगाड़' देखें VIDEO


पुणे शहर के श्रीधर चिल्लल के बायें हाथ में सबसे अधिक लंबा नाखून है जिसकी लंबाई 909.6 (358.1 ईंच) सेंटीमीटर है. तमिलनाडु के वी शंकरनारायणन ने इस पुस्तक में अपना नाम कागज के कप के सबसे बड़े संग्रह के लिए दर्ज कराया है और उनके पास कुल 736 कप हैं.

टिप्पणियां

ये भी पढ़ें: सड़क पर हुआ गड्ढा और अंदर समा गई चलती बस, वायरल हुआ Video, लोग बोले- 2019 का Titanic

पुस्तक में कुछ उपलब्धियां ऐसी भी हैं, जो निश्चित रूप से गर्व करने लायक नहीं है. इनमें विश्व के सबसे प्रदूषित शहर के रूप में कानपुर शहर का नाम दर्ज है जहां साल 2016 में पीएम 2.5 का औसत प्रति एम3, 173 माइक्रोग्राम था जो विश्व स्वास्थ्य संगठन के मानकों से 17 गुना से भी अधिक है. पुस्तक गुरूवार को बाजार में आयी है.
 



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... CAA पर सिब्बल के बयान के बाद आया कांग्रेस का Reaction,'राज्यों को केंद्र से असहमत होने का अधिकार जबतक...'

Advertisement